गुजरात चुनाव में कांग्रेस सभी पूर्वानुमानों को गलत साबित करके बेहतर प्रदर्शन करेगी: देवड़ा |

गुजरात चुनाव में कांग्रेस सभी पूर्वानुमानों को गलत साबित करके बेहतर प्रदर्शन करेगी: देवड़ा

गुजरात चुनाव में कांग्रेस सभी पूर्वानुमानों को गलत साबित करके बेहतर प्रदर्शन करेगी: देवड़ा

: , November 29, 2022 / 08:53 PM IST

(आसिम कमाल)

नयी दिल्ली/अहमदाबाद, 25 नवंबर (भाषा) कांग्रेस नेता मिलिंद देवड़ा ने शुक्रवार को कहा कि गुजरात के आगामी विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी (आप) की लहर भले ही बताई जा रही है लेकिन उसका प्रदर्शन मामूली रहेगा। उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस चुनावों में इन सभी पूर्वानुमानों को गलत साबित करेगी और आश्चर्यजनक रूप से उभरेगी।

गुजरात चुनावों के लिए कांग्रेस के पर्यवेक्षक देवड़ा ने कहा कि राज्य में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार के खिलाफ जबरदस्त सत्ता विरोधी लहर है और कांग्रेस ने स्थानीय स्तर पर अभियान का विकल्प चुना है जो 2017 के चुनावों से अलग है।

देवड़ा ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा कि पार्टी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ का चुनाव पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। उन्होंने कहा कि हालांकि पार्टी नेता राहुल गांधी यात्रा में व्यस्त थे और अब वह प्रचार के लिए राज्य में और दौरे करेंगे।

राज्य में कांग्रेस के हल्के प्रचार अभियान के बारे में पूछे जाने पर पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘‘मैं इस बात से सहमत नहीं हो सकता कि हम अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास नहीं कर रहे हैं। यह पिछली बार से बहुत अलग तरह का अभियान है।’’

उन्होंने कहा कि 2017 के चुनावों में पाटीदार आंदोलन, नोटबंदी और वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) जैसे मुद्दे थे, जिसके कारण सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन हुए थे।

उन्होंने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने खुद (भाजपा) कार्यकर्ताओं से कहा कि कांग्रेस स्थानीय स्तर पर प्रचार अभियान चला रही है। इसलिए, मुझे लगता है कि रणनीति अलग है, यह पिछले चुनाव से अलग है। पार्टी जमीनी स्तर पर कड़ी मेहनत कर रही है, सरकार को बेनकाब कर रही है और सत्ता विरोधी लहर का फायदा उठा रही है।’’

अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली ‘आप’ के राज्य विधानसभा चुनाव लड़ने और इसके गुजरात में कांग्रेस की संभावनाओं पर सेंध लगाने के बारे में पूछे जाने पर देवड़ा ने कहा कि ‘आप’ भाजपा के वोटों में भी सेंध लगा रही है और इसलिए उन्हें नहीं लगता कि यह केवल एक पार्टी को नुकसान पहुंचा रही है।

उन्होंने कहा कि गुजरात में कांग्रेस की अभी भी ‘‘बहुत मजबूत मौजूदगी’’ है और जो मतदाता भाजपा को हराना चाहते हैं, वे समझते हैं कि यह ‘‘एकमात्र विकल्प’’ है।

देवड़ा ने कहा कि असली मुकाबला भाजपा और कांग्रेस के बीच होगा। यह पूछे जाने पर कि कांग्रेस पिछले चुनावों में सत्ता विरोधी लहर का फायदा क्यों नहीं उठा पाई, उन्होंने कहा कि इसके कई कारण हैं और भावनात्मक मुद्दे हैं जिससे भाजपा को फायदा हुआ।

उन्होंने कहा, ‘‘मेरा मानना है कि कांग्रेस गुजरात में अपने प्रदर्शन से निश्चित रूप से आलोचकों और राजनीतिक पंडितों को चौंका देगी।’’ उन्होंने कहा कि गुजरात में अभी भी कांग्रेस की मौजूदगी है और वह अपने मूल मतदाताओं के बीच लोकप्रिय है, सौराष्ट्र जैसे क्षेत्र हैं जहां वह बहुत मजबूत है।’’

यह पूछे जाने पर कि क्या असदुद्दीन ओवैसी के नेतृत्व वाली ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) भाजपा विरोधी वोट काटेगी, देवड़ा ने कहा कि एआईएमआईएम और ‘आप’ जैसी पार्टियों का प्रदर्शन गुजरात चुनाव में मामूली रहेगा और उनके अलग एजेंडे हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन मुझे लगता है कि गुजरात, राजस्थान और मध्य प्रदेश जैसे राज्यों में मतदाता पश्चिम बंगाल या उत्तर प्रदेश से अलग हैं, जहां भाजपा के खिलाफ मतदाता किसी क्षेत्रीय दल के समर्थन में खड़े हो सकते हैं। मुझे लगता है कि गुजरात, राजस्थान और मध्य प्रदेश जैसे राज्यों में लोग कांग्रेस को भाजपा के विकल्प के रूप में देखते हैं।’’

गांधी के अब तक सिर्फ दो चुनावी रैलियां किये जाने के संबंध में देवड़ा ने कहा कि कांग्रेस के पूर्व प्रमुख ने यात्रा निकालने को चुना है, लेकिन एक से अधिक मौकों पर प्रचार भी किया है।

देवड़ा ने कहा, ‘‘भारत में हर छह महीने में चुनाव होते हैं, तो उस तर्क से आप कभी भी यात्रा नहीं निकाल सकते। हमेशा एक राज्य का चुनाव होगा जो पांच महीने लंबी यात्रा के साथ होगा। उन्होंने कहा कि गांधी प्रचार कर रहे हैं तथा वह और दौरे करेंगे।

यह पूछे जाने पर कि कांग्रेस कितनी सीटों की उम्मीद कर रही है, उन्होंने कहा, ‘‘मैं सीटों की संख्या पर टिप्पणी नहीं करना चाहता। कांग्रेस कड़ी चुनौती दे रही है और स्थानीय स्तर पर सभी नेता एकजुट होकर काम कर रहे हैं।’’

भाषा

देवेंद्र मनीषा

मनीषा

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)