एनसीपीसीआर ने बम धमाके के मामले में पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव, एडीजी को तलब किया

एनसीपीसीआर ने बम धमाके के मामले में पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव, एडीजी को तलब किया

: , May 14, 2022 / 12:36 AM IST

नयी दिल्ली, 13 मई (भाषा) बाल अधिकारों की शीर्ष संस्था एनसीपीसीआर ने पिछले महीने पश्चिम बंगाल के मालदा जिले में हुए देसी बम धमाके के सिलसिले में राज्य के मुख्य सचिव एच.के. द्विवेदी और अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (एडीजी) के. जयरमण को तलब किया है।

आयोग ने दोनों अधिकारियों को घटना पर कार्रवाई रिपोर्ट की जानकारी देने के लिए बुलाया है, जिसमें चार बच्चे घायल हो गए थे।

राष्ट्रीय बाल अधिकार सरंक्षण आयोग (एनसीपीसीआर) का यह समन पूर्व में भेजे गए पत्र के बाद आया है। आयोग ने पत्र भेजकर जांच की विस्तृत रिपोर्ट से अवगत कराने को कहा था लेकिन पश्चिम बंगाल के अधिकारियों की ओर से इस पर पर कोई जवाब नहीं दिया गया।

पूर्व के पत्र में एनसीपीसीआर ने घायल बच्चों को अच्छा इलाज मुहैया कराने को भी कहा था।

एनसीपीसीआर ने पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव को भेजे पत्र में कहा, ‘‘आयोग द्वारा 25 अप्रैल 2022 को भेजे गए पत्र के बावजूद अब तक आपके कार्यालय से संबंधित मामले में कोई जवाब या प्रतिक्रिया नहीं मिली है। आयोग शिकायत पर संज्ञान लेते हुए आपके कार्यालय से अनुरोध करता है कि मामले की तेजी से और विस्तृत जांच करें तथा ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए एहतियाती कदम उठाएं।’’

आयोग ने मुख्य सचिव एच.के. द्विवेदी और एडीजी जयरमण को 20 मई को कार्रवाई रिपोर्ट और घटना में घायल बच्चों को चिकित्सा सहायता मुहैया नहीं कराने को लेकर जवाब के साथ उपस्थित होने को कहा है।

आयोग ने चेतावनी दी है कि अगर वे उपस्थित होने में असफल होते हैं तो उन्हें दीवानी प्रक्रिया संहिता के तहत ‘‘नतीजे भुगतने होंगे।’’

पुलिस के मुताबिक, बच्चे गेंद समझकर बम से खेलने लगे कि तभी उसमें धमाका हो गया था।

भाषा शफीक नेत्रपाल

नेत्रपाल

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)