‘भारत जोड़ो यात्रा’ को मध्य प्रदेश में जबरदस्त समर्थन मिला : राहुल गांधी |

‘भारत जोड़ो यात्रा’ को मध्य प्रदेश में जबरदस्त समर्थन मिला : राहुल गांधी

‘भारत जोड़ो यात्रा’ को मध्य प्रदेश में जबरदस्त समर्थन मिला : राहुल गांधी

: , December 4, 2022 / 10:31 PM IST

(तस्वीरों के साथ)

भोपाल, चार दिसंबर (भाषा) कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के रविवार शाम को मध्य प्रदेश से पड़ोसी राज्य राजस्थान में प्रवेश करने से ठीक पहले कहा कि इस यात्रा को भाजपा शासन वाले मध्य प्रदेश में ‘सुबह की ठंड एवं गड्ढों से भरी सड़कों की परवाह किये बिना’ लोगों का जबरदस्त समर्थन मिला।

राहुल के नेतृत्व वाली ‘भारत जोड़ो यात्रा’ ने मध्य प्रदेश में अपना 12 दिवसीय मार्ग पूरा करने के बाद आगर मालवा जिले से रविवार शाम राजस्थान में प्रवेश किया। इस दौरान इस यात्रा ने प्रदेश में 380 किलोमीटर की दूरी तय की।

राहुल ने एक लिखित बयान में कहा कि भारत जोड़ो यात्रा 12 दिनों तक मध्य प्रदेश की धरा पर चली है। बयान में उन्होंने कहा, ‘‘राज्य में बुरहानपुर जिले से प्रवेश कर हम आगर मालवा से गुजरे हैं। इस दौरान हमने सतपुड़ा एवं विंध्य के पहाड़ों को, ताप्ती और नर्मदा नदियों को पार किया। खेतों, गांवों और शहरों से होकर गुजरे।’’

उन्होंने कहा, ‘‘और सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि यात्रा के हर कदम पर हमें मध्य प्रदेश के लोगों का जबरदस्त समर्थन मिला।’’

राहुल ने मध्य प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नीत सरकार पर तंज कसते हुए आगे कहा, ‘‘समाज के हर वर्ग के लाखों लोग-नौजवान, महिलाएं, किसान, मजदूर -सुबह की ठंड और गड्ढों से भरी सड़कों की परवाह किये बिना हमारे साथ कदम से कदम मिला कर चले।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मध्य प्रदेश के बुरहानपुर और इंदौर की सड़कों पर हौसला अफजाई करता हुआ जन सैलाब तथा उज्जैन की जनसभा में शामिल होने आए लाखों लोग हमेशा हमारी स्मृतियों में रहेंगे। हम मध्य प्रदेश की जनता के स्नेह और यात्रा में उनकी उत्साहपूर्ण भागीदारी के लिए आभारी हैं।’’

कांग्रेस नेता ने मध्य प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि अन्य राज्यों की तरह यहां के किसान को भी बढ़ती लागत, घटती आमद, अनिश्चित कीमतों, बिजली की समस्या और सरकार की असंवेदनशील नीतियों के कारण अपना गुजारा करने के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है।

राहुल ने कहा, ‘‘मध्य प्रदेश के युवा कड़ी मेहनत और त्याग के बावजूद अपने बेहतर भविष्य की उम्मीद खोते जा रहे हैं। शिक्षित बेरोजगार युवा प्रदर्शन कर रहे हैं, मेडिकल छात्र हड़ताल पर हैं, सरकारी भर्ती रुकी हुई हैं और इनमें भ्रष्टाचार चरम पर है।’’

उन्होंने आरोप लगाया कि विरोध करने वाले युवाओं की आवाज दबा दी जाती है। राहुल ने केंद्र पर निशाना साधते हुए कहा, ‘‘छोटे व्यवसायी जो हमारे देश की समृद्धि की रीढ़ है, मूर्खतापूर्ण तरीके से बनाए और लागू किये गये माल और सेवा कर (जीएसटी), कोरोना कुप्रबंधन और नोटबंदी की मार से अभी तक उबर नहीं पाए हैं।’’

उन्होंने कहा कि आदिवासी, जो हमारे देश के मूल निवासी हैं, अपने अधिकारों की गारंटी देने वाले कानूनों के लगातार कमजोर किए जाने के कारण संघर्ष कर रहे हैं।

केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के नेतृत्व में पार्टी के 22 विधायकों के इस्तीफे के बाद 23 मार्च 2020 में कमलनाथ के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार के गिरने की ओर इशारा करते हुए राहुल ने कहा, ‘‘मध्य प्रदेश की जनता ने इन चुनौतियों को हल करने के लिए कांग्रेस पर जो विश्वास जताया था, उसके साथ विश्वासघात किया गया। ठीक वैसे ही जैसे पूरे देश भर में संवैधानिक मूल्यों पर हमला किया जा रहा है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘26 नवंबर को बाबा साहेब आंबेडकर की जन्मस्थली महू में हमने संविधान की रक्षा करने का संकल्प लिया।’’ कांग्रेस नेता ने आगे कहा, ‘‘मैं मध्य प्रदेश की जनता के सामने उस प्रतिज्ञा को दोहराता हूं और वादा करता हूं कि जल्द ही एक दिन वो आएगा, जब हम आपके हर उस भरोसे पर खरा उतरेंगे जो आपने कांग्रेस में जताया था।’’

राहुल ने कहा कि मध्य प्रदेश में यात्रा के दौरान सभी ने उन संस्कृतियों का भी अनुभव किया जो राज्य को भारत की समृद्ध विविधता का प्रतिबिंब बनाती हैं। उन्होंने कहा, ‘‘हमने श्री ओंकारेश्वर और श्री महाकालेश्वर के ज्योतिर्लिंगों के साथ-साथ श्री महावीर तपोभूमि में आशीर्वाद प्राप्त किया।’’

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा, ‘‘टंट्या भील और बाबा साहेब आंबेडकर के योगदान को विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित की। हम मध्य प्रदेश की पारंपरिक कथाओं और मालवी कबीर भजनों को सुनते हुए चले।’’

यह यात्रा मध्य प्रदेश के आगर मालवा जिले से शाम करीब छह बजकर 40 मिनट पर चंवली नदी पर बने पुल को पार करते हुए राजस्थान में प्रवेश कर गई। यात्रा मध्य प्रदेश में 23 नवंबर को दाखिल हुई थी। तमिलनाडु के कन्याकुमारी से सात सितंबर को शुरू हुई ‘भारत जोड़ो यात्रा’ का आज 88वां दिन है।

भाषा रावत रावत आशीष

आशीष

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)