हत्या आरोपी इंद्राणी मुखर्जी ने अर्जी दायर करके शीना बोरा के जीवित होने का दावा किया

हत्या आरोपी इंद्राणी मुखर्जी ने अर्जी दायर करके शीना बोरा के जीवित होने का दावा किया

: , January 24, 2022 / 11:10 PM IST

मुंबई, 24 जनवरी (भाषा) पूर्व मीडिया कारोबारी इंद्राणी मुखर्जी ने सोमवार को एक विशेष अदालत में हाथ से लिखित एक अर्जी दी जिसमें दावा किया गया कि उसकी बेटी शीना बोरा जिंदा है।

मुखर्जी ने अपनी वकील सना रईस खान के माध्यम से प्रस्तुत आठ पन्नों की अर्जी में अदालत से सीबीआई, अभियोजन पक्ष को उसके दावों के जवाब में एक हलफनामा दाखिल करने का निर्देश देने का अनुरोध किया।

मुखर्जी ने जानना चाहा है कि क्या शीना बोरा के जीवित होने के उनके दावों का पता लगाने के लिए केंद्रीय जांच ब्यूरो ने कोई कदम उठाया है।

अर्जी के अनुसार, नवंबर 2021 में, एक महिला ने भायखला महिला जेल के अंदर अपना परिचय पूर्व पुलिस निरीक्षक आशा कोरके के रूप में दिया जिसे जबरन वसूली के एक मामले में गिरफ्तार किया गया था जिसमें मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह भी शामिल थे।

आवेदन में कहा गया है कि कोरके ने कथित तौर पर मुखर्जी को बताया कि जून 2021 में वह श्रीनगर में थी जहां उसकी मुलाकात शीना बोरा जैसी दिखने वाली एक युवती से हुई। जब कोरके ने युवती से संपर्क किया और पूछा कि क्या वह शीना बोरा है, तो युवती ने सकारात्मक जवाब दिया।

इसमें आगे दावा किया गया है कि इसके बाद कोरके ने शीना को आगे आने और सच्चाई उजागर करने के लिए कहा ताकि उसके माता-पिता मुक्त हो सकें।

उसकी अर्जी में दावा किया गया कि शीना ने यह कहते हुए मना कर दिया कि उसने एक नया जीवन शुरू किया है और वह अपने पुराने जीवन में वापस नहीं आना चाहती।

इंद्राणी मुखर्जी को 2015 में उसके तत्कालीन पति पीटर मुखर्जी और उसके पूर्व पति संजीव खन्ना के साथ उनकी बेटी शीना बोरा की हत्या के मामले में गिरफ्तार किया गया था।

भाषा अमित अर्पणा

अर्पणा

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)