अखिलेश यादव फिर चुने गए सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष, कार्यकाल भी बढ़ाया

Reported By: Abhishek Mishra, Edited By: Abhishek Mishra

Published on 05 Oct 2017 12:45 PM, Updated On 05 Oct 2017 12:45 PM

 

आगरा में हुए समाजवादी पार्टी के दसवें राष्ट्रीय अधिवेशन में अखिलेश यादव को दूसरी बार पार्टी अध्यक्ष चुना गया। निर्वाचन अधिकारी और सपा के वरिष्ठ नेता रामगोपाल यादव ने अखिलेश के निर्विरोध निर्वाचन की घोषणा की। अखिलेश यादव पार्टी के अध्यक्ष तो चुने गए लेकिन उन्हे सपा के संस्थापक और अपने पिता मुलायम सिंह यादव का आशिर्वाद नहीं मिल पाया।

दिल्ली विवेक विहार थाने की एसएचओ बनी विवादित धर्मगुरू राधे मां !

पार्टी के राष्ट्रीय अधिवेशन में अखिलेश के विरोधी चाचा शिवपाल यादव भी मौजूद नहीं थे। अखिलेश का पार्टी अध्यक्ष चुने जाने के बाद यह साफ हो गया की आगामी लोकसभा व 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव पार्टी उन्ही के नेतृत्व में लड़ने वाली है। सपा के राष्ट्रीय अधिवेशन से पहले पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में पार्टी अध्यक्ष का कार्यकाल 3 साल से बढ़ाकर 5 साल कर दिया गया।

2018 तक लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ कराने की तैयारी

सपा के राष्ट्रीय अधिवेशन में देशभर से करीब 15,000 प्रतिनिधि हिस्सा लेने पहंुचे। इस अधिवेशन में विभिन्न राष्ट्रीय तथा स्थानीय मुद्दों पर मंथन किया जाएगा साथ ही आर्थिक और राजनीतिक प्रस्ताव पारित किये जाएंगे।

Web Title : Akhilesh Yadav again elected president of SP

जरूर देखिये