तब अमित शाह ने कहा था, 'मेरा पानी उतरते देख किनारे पर घर मत बना लेना, मै समुंदर हूं लौटकर आऊंगा जरूर'

 Edited By: Anil Kumar Shukla

Published on 22 Aug 2019 04:07 PM, Updated On 22 Aug 2019 04:07 PM

रायपुर। मोदी-2 वर्सेस यूपीए-2, गृहमंत्री अमित शाह वर्सेस पूर्व गृहमंत्री पी. चिदंबरम, सोहराबुद्दीन शेख इनकाउंटर केस वर्सेस आईएनएक्स मीडिया केस, आप कुछ भी कह लीजिए या फिर महज एक इत्तेफाक या संयोग ही कह लीजिए। लेकिन 10 साल बाद जिस प्रकार से चिदंबरम की गिरफ्तारी हुई है वह अमित शाह के एक पुरानी शेर की याद जरूर दिल रहा है।

read more : गर्भवती महिलाओं ने जिला चिकित्सालय में की तालाबंदी , सोनोग्राफी मशीन ना होने की वजह से हैं नाराज

बात उस समय की है जब यूपीए—2 सरकार में पी चिदंबरम देश के गृहमंत्री थे, सोहराबुद्दीन शेख एनकाउंटर मामला चरम पर था, इसी मामले में 25 जुलाई 2010 को अमित शाह ने सीबीआई आफिस जाकर समर्पण किया था। इससे पहले अमित शाह ने भाजपा कार्यालय में प्रेस कॉफ्रेंस की थी। चार दिन तक शाह लापता भी रहे थे। तीन माह की जेल के बाद 29 अक्टूबर 2010 को शाह को जमानत मिल गई हालाकि वे दो साल गुजरात से बाहर रहे। कोर्ट ने उन्हे 2012 में गुजरात विधानसभा चुनाव से पहले राज्य में आने की अनुमति दी थी।

read more : सरकारी जमीन से अवैध कब्जा नही हटाने का प्रशासन पर आरोप, दर्जन भर जनप्रतिनिधियों ने की सामूहिक ​इस्तीफे की पेशकश

लौटने पर शाह ने एक मीटिंग में कहा था कि 'मेरा पानी उतरते देख किनारे पर घर मत बना लेना, मै समुंदर हूं लौटकर जरूर आऊंगा' अब समय बदला है 10 साल बाद अब मोदी —2 सरकार में शाह देश के गृहमंत्री हैं, सीबीआई ने ​चिदंबरम को गिरफ्तार कर लिया है। पूर्व गृहमंत्री पी चिदंबरम आइएनएक्स मीडिया केस में सीबीआई की हिरासत में हैं। आज राउज एवेन्यू कोर्ट में सुनवाई चल रही है। जहां सीबीआई ने कोर्ट से 5 दिन की रिमांड मांगी है।

 

Web Title : amit shah speech in press conference in 2010

जरूर देखिये