इस डीएम का नाम सुनते ही घबरा जाते हैं आजम खान, भू माफिया घोषित करने के साथ दर्ज किए हैं 44 मामले

 Edited By: Rupesh Sahu

Published on 22 Jul 2019 04:28 PM, Updated On 22 Jul 2019 04:28 PM

उत्तरप्रदेश । समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता और सांसद आजम खान के खिलाफ कार्रवाई के बाद रामपुर के जिलाधीश आंजनेय कुमार सिंह सुर्खियों में हैं। बीते 4 महीनों में आजम खान के खिलाफ दर्ज किए गए 44 मामलों में डीएम आंजनेय कुमार सिंह की भूमिका सबसे प्रमुख रही है। आंजनेय कुमार सिंह ने आजम खान को भू माफिया घोषित किया है। आंजनेय कुमार सिंह ने आजम खान का सरकारी पोर्टल पर भू माफिया के तौर पर नाम प्रकाशित कराया। जानकारी के मुताबिक रामपुर के डीएम को सीएम योगी आदित्यनाथ ने ही सपा नेता आजम खान पर नियंत्रण रखने के लिए चुना है।

ये भी पढ़ें- ​बिजली विभाग ने ग्रामीण को थमाया 128 करोड़ रूपए का बिजली बिल, इंजीन...

कुछ अधिकारियों का कहना है कि यह पहली बार नहीं है कि जब आजम खान और आंजनेय कुमार सिंह के बीच तल्खी के रिश्ते बने हों, इसके पहले भी कई मौकों पर दोनों एक दूसरे के आमने- सामने आ चुके हैं। बता दें कि भूमाफिया घोषित होने के बाद आजम खान ने अपने ऊपर दर्ज मुकदमों के लिए सीधे तौर पर डीएम को जिम्मेदार ठहराया था। आजम का कहना था कि डीएम उन्हें चुनाव हरवाना चाहते थे लेकिन वह चुनाव जीत गए। इस लिए अब बदले की भावना से कार्रवाई हो रही है। वहीं डीएम आंजनेय कुमार सिंह ने इन सभी आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि उनकी आजम खान से कोई दुश्मनी नहीं है।

ये भी पढ़ें- एक्शन में कार्यकारी कांग्रेस अध्यक्ष, पुलिस और अस्पताल प्रशासन की ल...

आंजनेय कुमार सिंह मऊ जनपद के निवासी हैं। रामपुर का डीएम बनाए जाने से पहले वे फतेहपुर के डीएम थे। उन्होंने इसी साल फरवरी में रामपुर के डीएम का पदभार संभाला था। आंजनेय कुमार सिंह ने तत्कालीन डीएम महेंद्र बहादुर सिंह का स्थान लिया था। प्रशासनिक फेरबदल के तहत महेंद्र बहादुर सिंह को शासन में आवास एवं शहरी नियोजन विभाग में विशेष सचिव की जिम्मेदारी दी गई थी। इस फेरबदल में 22 जिलों के डीएम का तबादला किया गया था।

 

Web Title : Azam Khan is afraid to hear the name of this DM 44 cases filed with declaring bhoo mafia

जरूर देखिये