129 शिक्षाकर्मियों की नियुक्ति निरस्त, नौकरी पाने के लिए जमा किए थे फर्जी प्रमाण पत्र

 Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 19 Jul 2019 11:40 PM, Updated On 19 Jul 2019 11:40 PM

गरियाबंद: छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले में जिला पंचायत सीईओ 129 शिक्षाकर्मियों की नियुक्ति आदेश निरस्त करने का आदेश दिया है। बताया जा रहा है कि इन सभी शिक्षाकर्मियों की नियुक्ति फर्जी प्रमाण पत्रों के आधार पर हुई थी। जांच के दौरान सभी के प्रमाण पत्र फर्जी पाए गए हैं। सभी 129 शिक्षाकर्मियों की नियुक्ति साल 2005-2006 और 2007 में हुई थी। इस आदेश के जारी होते ही जिले के शिक्षाकर्मियों में हड़कंप मच गया है।

Read More: भूपेश कैबिनेट की अहम बैठक, रजिस्ट्री शुल्क में 30 प्रतिशत कटौती के प्रस्ताव पर लगी मुहर

मिली जानकारी के अनुसार बीते दिनों जिले में पदस्थ कई शिक्षाकर्मियों के प्रमाण पत्र फर्जी पाए गए थे। नौकरी पाने के लिए शिक्षाकर्मियों ने विकलांगता, स्काउट गाइड, एनसीसी के फर्जी दस्तावेज जमा किए थे। मामले की जानकारी होने पर जिला पंचायत सीईओ ने 356 शिक्षाकर्मियों के प्रमाण पत्रों के जांच के आदेश दिए थे। जांच के दौरान 129 लोगों के दस्तावेज फर्जी पाए गए।

Read More: प्रभारी कलेक्टर ने निर्माणनाधीन पुल का किया निरीक्षण, सुनी ग्रामीणों की समस्या

129 लोगों के फर्जी दस्तावेज प्रमाणित होने के बाद जिला पंचायत सीईओ आरके खुटे ने अधिकारियों की बैठक बुलाई और सभी की नियुक्तियां निरस्त करने के निर्देश दिए।

Read More: लोकसभा में संतोष पांडेय ने उठाया छत्तीसगढ़ी भाषा का मुद्दा, आठवीं अनुसूची में शामिल करने रखा पक्ष

Web Title : Cancelled 19 sikshakarmi's appointment due to dake document

जरूर देखिये