मेडिकल कॉलेजों में सुरक्षा कड़ी करने स्वास्थ्य विभाग ने पुलिस अधीक्षकों को लिखा पत्र

 Edited By: Sanjeet Tripathi

Published on 15 Jun 2019 07:42 PM, Updated On 15 Jun 2019 07:42 PM

रायपुर। पश्चिम बंगाल में जूनियर डॉक्टर्स से मारपीट और फिर जूडा के हड़ताल के बाद छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य विभाग ने प्रदेश के सभी चिकित्सा महाविद्यालयों में बेहतर सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए पुलिस अधीक्षकों को पत्र लिखा है। स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंहदेव के निर्देश पर विभागीय सचिव निहारिका बारिक सिंह ने मेडिकल कॉलेज वाले जिलों रायपुर, बिलासपुर, बस्तर, राजनांदगांव, रायगढ़ और सरगुजा के पुलिस अधीक्षकों को पत्र लिखा है।

उन्होंने पुलिस अधीक्षकों को चिकित्सा महाविद्यालयों में स्थापित पुलिस चौकियों में बल की संख्या की समीक्षा करने और जरूरत के अनुसार अतिरिक्त पुलिस बल तैनात करने कहा है। उन्होंने इस संबंध में की गई कार्रवाई से अवगत कराने भी कहा है। स्वास्थ्य विभाग ने हाल ही में कोलकाता में चिकित्सा महाविद्यालय में जूनियर डॉक्टरों से मारपीट और राज्य के कुछ अस्पतालों में पिछले दिनों जूनियर डॉक्टरों से हुई हाथापाई के मद्देनजर मेडिकल कॉलेजों में सुरक्षा कड़ी करने का आग्रह पुलिस से किया है। चिकित्सा महाविद्यालयों के डॉक्टरों और विद्यार्थियों ने भी इस संबंध में चिंता जाहिर की थी। मेडिकल कॉलेजों में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं एवं प्राध्यापकों की पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था को लेकर विभाग गंभीर है।

यह भी पढ़ें :  सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने के आरोपी को मिली जमानत, वीडियो शेयर करने के बाद दर्ज हुआ था राजद्रोह का मामला 

स्वास्थ्य विभाग ने पुलिस अधीक्षकों से कहा है कि मेडिकल कॉलेजों में रोज सैकड़ों की संख्या में गंभीर और अति गंभीर मरीज इलाज कराने आते हैं। आपाधापी और तनाव की स्थिति में कई बार मरीजों और डॉक्टरों के बीच अप्रिय स्थिति निर्मित हो जाती है। इस स्थिति से निपटने और इलाज की सुचारू व्यवस्था के लिए मेडिकल कॉलेजों में सुरक्षा के बेहतर इंतजाम जरूरी हैं।  

Web Title : Health Department has written letter to Police Superintendents

जरूर देखिये