निरीक्षण करने सुपेबेड़ा जाएंगे हाईकोर्ट के न्यायमूर्ति सुनील ओटवानी, वास्तविक स्थिति का लेंगे जायजा

 Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 17 Jul 2019 11:34 PM, Updated On 17 Jul 2019 11:34 PM

बिलासपुर: छत्तीसगढ़ के ​गरियाबंद जिले के किडनी रोग प्रभावित गांव सुपेबेड़ा का मामला हाईकोर्ट में लंबित है। मामले को लेकर न्यायमूर्ती सुनील ओटवानी ने सुपेबेड़ा जाकर स्थिति का निरीक्षण करने का फैसला लिया है। न्यायमूर्ती ओटवानी का कहना है कि वे खुद गांव में जाकर वास्तविक स्थिति का निरीक्षण करेंगे और कोर्ट को अवगत कराएंगे।

Read More: कांग्रेस विधायक दल की दूसरी बैठक, फ्लोर टेस्ट के लिए तैयार रहने दिए निर्देश

मामले में पिछली सुनवाई के दौरान छत्तीसगढ़ शासन ने हाईकोर्ट में जानकारी देते हुए कहा था कि ओडिशा के तेल नदी से पानी लाकर गांव में दुषित पानी की समस्या को दूर किया जा सकता है। शासन ने कोर्ट में जवाब प्रस्तुत करते हुए बताया कि नोडल अधिकारी की जा चुकी है।

Read More: नीति आयोग के आकांक्षी जिलों में कोंडागांव पहले पायदान पर, सीएम भूपेश बघेल ने दी बधाई

बता दें कि सुपेबेड़ा गांव के पानी में फ्लोराइड की मात्रा अधिक होने के चलते यहां की आधी से अधिक आबादी किडनी की बीमारी से पीड़ित है। इस बीमारी के चलते यहां सैकड़ों लोगों की मौत हो चुकी है।

Read More: महिला एवं बाल विकास सहित कई विभागों में बंपर तबादले, दो दर्जन से अधिक कर्मचारियों का ट्रांसफर

Web Title : Justice sunil otwani will visit supebeda

जरूर देखिये