प्रजापति बने मप्र विधानसभा स्पीकर, बीजेपी ने नहीं लिया वोटिंग में हिस्सा, विरोध में राजभवन मार्च

 Edited By: Sanjeet Tripathi

Published on 08 Jan 2019 01:30 PM, Updated On 08 Jan 2019 01:30 PM

भोपाल। कांग्रेस के विधायक एनपी प्रजापति मध्यप्रदेश के नए विधानसभा अध्यक्ष चुए गए हैं। प्रजापति को 120 वोट मिले जबकि विपक्ष के वॉकआउट के कारण उनके विपक्ष में कोई वोट नहीं पड़ा। हालांकि इससे पहले चुनाव प्रक्रिया के दौरान सदन में जमकर हंगामा हुआ। कार्यवाही शुरू होने पर प्रोटेम स्पीकर ने नियम पांच का हवाला देकर बिना वोटिंग के एनपी प्रजापति को विधानसभा अध्यक्ष घोषित किया। इस पर भाजपा ने हंगामा शुरू कर दिया। इस पर सदन की कार्यवाही दो बार स्थगित करनी पड़ी। भाजपा ने वॉकआउट कर दिया। इसके बाद बसपा विधायक द्वारा वोटिंग की मांग करने पर प्रोटेम स्पीकर ने मत विभाजन कराया।

विधानसभा की कार्यवाही फिर शुरु हुई तो बीजेपी विधायकों ने नारेबाजी शुरु कर दी।बीजेपी सदस्य गर्भ गृह में पहुंचकर नारेबाजी करते नजर आए। वहीं पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष के लिए बीजेपी प्रत्याशी का नाम प्रस्तावित ही नहीं किया गया। यह आदिवासियों का अपमान है, लोकतंत्र का अपमान है।

यह भी पढ़ें : नान पर सियासी रार, रमन ने दोहराया-बदलापुर सरकार ने आरोपी के आवेदन पर किया SIT का गठन 

शिवराज ने कहा कि आज का दिन मप्र विधानसभा के इतिहास का काला दिन है। उन्होंने कहा कि इसके विरोध में विपक्ष पैदल मार्च करते हुए राजभवन जाएगा और राज्यपाल को ज्ञापन सौंपा जाएगा। इसके बाद सदन की कार्यवाही दोपहर 3 बजे तक के लिए स्थगित हो गई।

Web Title : Np Prajapati became MP assembly speaker BJP did not take part in voting

जरूर देखिये