Padmavat not be released otherwise would upset the police, government letter to Goa police | पद्मावत न हो रिलीज वर्ना परेशान होगी पुलिस, सरकार को गोवा पुलिस की चिट्ठी

पद्मावत न हो रिलीज वर्ना परेशान होगी पुलिस, सरकार को गोवा पुलिस की चिट्ठी

Reported By: Renu Nandi, Edited By: Renu Nandi

Published on 10 Jan 2018 01:33 PM, Updated On 10 Jan 2018 01:33 PM

संजय लीला भंसाली की बहुचर्चित और विवादास्पद फिल्म पद्मावती का नाम बदलकर पद्मावत किया जा चुका है और सेंसर बोर्ड की कांट-छांट के बाद इसे 25 जनवरी को रिलीज भी किया जा रहा है। दूसरी ओर, इस फिल्म के प्रदर्शन को लेकर अभी भी तरह-तरह के बयान सामने आ रहे हैं। ताजा खबर ये है कि गोवा पुलिस ने राज्य की मनोहर पर्रीकर सरकार को चिट्ठी लिखकर अपील की है कि यहां पद्मावत को रिलीज न किया जाए। गोवा पुलिस का कहना है कि ये पर्यटन स्थल है और इस सीज़न में पर्यटकों की बड़ी संख्या यहां आती है। अगर इस सीज़न में पद्मावत रिलीज हुई तो पुलिस बल की परेशानी बढ़ जाएगी क्योंकि उसपर दबाव बढ़ जाएगा।

ये पहला मामला है जब पुलिस की ओर से राज्य सरकार से किसी फिल्म की रिलीज पर रोक लगाने की मांग की गई है। इससे पहले, राज्य सरकार की ओर से ही फिल्मों की रिलीज पर रोक लगाई जाती रही है। पद्मावत के मामले में तो मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, राजस्थान और बिहार जैसे राज्यों की सरकारों ने फिल्म को सेंसर बोर्ड के देखने और रिलीज सर्टिफिकेट देने से पहले ही रोक का ऐलान कर दिया था।

ये भी पढ़ें- पैडमैन और पद्मावत की जंग तय, अय्यारी को बदलनी पड़ी रिलीज डेट

बताया जाता है कि पद्मावत में करीब 300 कट्स, फिल्म के नाम में बदलाव और घूमर गीत में भी बदलाव के बाद इस फिल्म के निर्माण से जुड़ी कंपनी भंसाली फिल्म्स प्रोडक्शंस बॉक्स ऑफिस पर कलेक्शन को लेकर पहले से ही चिंता में है। इसके साथ ही करणी सेना की ओर से फिल्म का विरोध जारी रखने की घोषणा की हुई है। मध्य प्रदेश सरकार ने भी अभी तक ये साफ नहीं किया है कि फिल्म इस राज्य में रिलीज होगी या नहीं। अब गोवा की भाजपा सरकार से गोवा पुलिस ने पद्मावत रिलीज न होने देने के लिए चिट्ठी लिखी है, जिसपर सरकार का जवाब आना अभी बाकी है।

वेब डेस्क, IBC24

Web Title : Padmavat not be released otherwise would upset the police, government letter to Goa police

जरूर देखिये