The former CM's warning to the CM, said 'you will crush your crushing mentality' | सीएम को पूर्व सीएम की चेतावनी, कहा 'आपकी कुचलने वाली मानसिकता को ही कुचल देगें'

सीएम को पूर्व सीएम की चेतावनी, कहा 'आपकी कुचलने वाली मानसिकता को ही कुचल देगें'

 Edited By: Anil Kumar Shukla

Published on 24 Aug 2019 11:48 AM, Updated On 24 Aug 2019 11:49 AM

भोपाल। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने मुख्यमंत्री कमलनाथ पर हमला बोला है। शिवराज सिंह ने पूर्व विधायक सुरेंद्र सिंह पर पुलिस के ओर से जुर्माना लगाए जाने को लेकर बयान दिया है। जिसमें उन्होने कहा है कि सरकार का ये तुगलकी फैसला है, सरकार जनाक्रोश से डरी हुई है।इन्हें डर है कि रोज ऐसे ही प्रदर्शन होंगे। इसके साथ ही शिवराज सिंह ने मुख्यमंत्री कमलनाथ को संबोधित करते हुए कहा कि 'कमलनाथ जी आपकी कुचलने वाली मानसिकता को ही हम कुचल देंगे'।

read more : मंत्री इमरती देवी के बयान पर स्वास्थ्य मंत्री ने कही ये बात, इधर मिलावटखोरों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की तैयारी

इसके साथ ही शिवराज सिंह ने कहा कि ऐसा मध्यप्रदेश ही नहीं बल्कि देश के राजनीतिक इतिहास में कभी नहीं हुआ जैसा बर्ताव यह सरकार कर रही है। सुरेंद्र नाथ सिंह का सर्मथन करते हुए उन्होने कहा​ कि हम इंद्रा जी केदमन ने नहीं डरे, हम अपील करते हैं कि सरकार लोकतंत्र को कुचलने के तुगलकी फरमान ना निकालें, अन्यथा हम इतने लोग खड़े कर देंगे कि मै भी देखूंगा कितनों की संपत्ति जप्त करते हैं। वहीं किसान कर्ज माफी पर शिवराज सिंह ने कहा कि किसान ठगे गए हैं, अब नई नई शर्ते जोड़ी जा रही हैं, सभी किसानों का कर्ज माफ हो।

टेरर फंडिंग मामले में दिग्विजय सिंह द्वारा सवाल पूछे जाने पर कहा​ कि दिग्विजय सिंह कुंठित मानसिकता के व्यक्ति हैं, भोपाल से चुनाव हारने के बाद उन्हें कोई गंभीरता से नहीं लेता मैं क्यों गंभीरता से लूं। दिग्विजय सिंह जब से भोपाल में चुनाव हारे हैं उलुल जुलुल बयान दे रहे हैं।

read more : अब इस वाट्सएप नंबर में करिए आंगनबाड़ी केंद्रों की शिकायत, फौरन होगी...

बता दें कि गुमठी व्यापारियों के समर्थन में बिना अनुमति के सीएम हाउस, वल्लभ भवन, पुलिस महानिदेशक और संभागायुक्त कल्पना श्रीवास्तव के चार इमली स्थित बंगले का घेराव के मामले में पूर्व विधायक सुरेंद्रनाथ सिंह (मम्मा) से 23 लाख 76 हजार 280 रुपए वसूलने का प्रस्ताव भेजा गया है।

read more : एक मंदिर ऐसा भी...जहां जन्माष्टमी में यशोदा माता की पूजा के लिए देशभर से पहुंचती हैं महिलाएं, जानिए खासियत

पुलिस ने इसके पीछे तर्क दिया है कि 20 अगस्त को पूर्व विधायक सिंह और उनके समर्थकों द्वारा सीएम हाउस सहित 12 अलग-अलग स्थानों से घेराव किया गया था। इसके चलते पुलिस को प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए अतिरिक्त बल तैनात करना पड़ता था। कानून व्यवस्था में पुलिस के जवानों और अफसरों की ड्यूटी लगाई गई थी, इसके चलते पुलिस पुलिस प्रशासनिक, विभागीय और न्यायालयीन से जुड़े काम नहीं कर पाई।

read more : स्कूल शिक्षा विभाग में बड़ा फेरबदल, 98 प्राचार्य और 118 बीईओ के तबादले

आकस्मिक ड्यूटी के चलते पुलिस को 23 लाख 76 हजार 280 रुपए का अतिरिक्त खर्च उठाना पड़ा। इधर, पूर्व विधायक सुरेंद्रनाथ सिंह का कहना है कि 42 साल की उनकी राजनीतिक सफर में यह पहली घटना है, जब प्रदर्शन करने पर जुर्माना वसूली की बात की जा रही है।

Web Title : The former CM's warning to the CM, said 'you will crush your crushing mentality'

जरूर देखिये