दहेज और बाल विवाह के खिलाफ बनी सबसे बड़ी मानवश्रृंखला

Reported By: Aman Verma, Edited By: Aman Verma

Published on 21 Jan 2018 06:54 PM, Updated On 21 Jan 2018 06:54 PM

पटनाबिहार ने आज दहेज प्रथा और बाल विवाह जैसी सामाजिक कुरीतियों को रविवार को जड़ से मिटाने का संकल्प लिया। दोपहर बारह बजे से लेकर अगले आधे घंटे तक बिहार के हर हिस्से में लोगों ने एक दूसरे का हाथ थामते हुए एक ऐसी विशालकाय मानवश्रृंखला का निर्माण किया, जो इससे पहले कहीं भी किसी ने नहीं देखी थी। करीब 5 करोड़ लोगों ने मिलकर 13 हजार 668 किलोमीटर लंबी ह्यूमन चेन बनाई, जिसकी शुरुआत बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पटना के गांधी मैदान में गुब्बारा उड़ा कर की। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इस मानवश्रृंखला को लेकर काफी समय से जागरुकता अभियान चला रहे थे और रविवार को भी वो खुद अपने हाथों में इसका प्लेकार्ड दिखाते नजर आए। 

इस ऐतिहासिक मानव श्रृंखला के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि बाल विवाह और दहेज के खिलाफ संकल्प  जताने के इस आयोजन से बिहार की जनता के मन में उत्सा ह बढ़ा है। उन्होंने कहा कि बाल विवाह और दहेज प्रथा के खिलाफ पहले से ही कानून हैं, इसके बावजूद इनका खात्मा नहीं किया जा सका है, बल्कि ये फैलती ही जा रही है। दो अक्टूबर को गांधी जयंती के दिन बिहार में दहेज के खिलाफ महाअभियान की शुरुआत हुई थी। नीतीश कुमार ने कहा कि ये कार्यक्रम जारी रहेगा क्योंकि इससे लोगों में जागरूकता आ रही है। 

 

 

वेब डेस्क, IBC24

Web Title : The largest human chain against dowry and child marriage

जरूर देखिये