ISIS के चंगुल से पादरी टॉम उझुन्नैल रिहा, सरकार के प्रयासों के लिए कहा शुक्रिया

Reported By: Abhishek Mishra, Edited By: Abhishek Mishra

Published on 28 Sep 2017 02:24 PM, Updated On 28 Sep 2017 02:24 PM

 

दुनिया में आतंक का पर्याय बना आतंकी संगठन ISIS के कब्जे से छुड़ाए गए केरल के भारतीय मूल के पादरी टॉम उझुन्नैल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात कर रिहाई के लिए भारतीय कोशिशों के लिए सरकार को शुक्रिया कहा. आपको बता दें isis  ने पादरी को सितंबर माह में रिहा कर दिया है. इसकी जानकारी विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने अपने ट्वीट के ज़रिए दी है.

आपको याद होगा अप्रैल 2016 में पादरी टॉम को यमन में ISIS के आतंकियों ने अगवा कर लिया था। पादरी टॉम को आईएस के चंगुल से रिहा करने के लिए भारत सरकार ने बहुत से प्रयास किए थे।  इसलिए दिल्ली पहुंचे फादर टॉम ने मीडिया को बताया कि वह उन सभी लोगों का शुक्रिया अदा करते हैं, जिन्होंने मेरे लिए दुआ और प्रयास किए साथ ही पादरी टॉम उझुन्नैल ने पीएम नरेंद्र मोदी और गृह मंत्रालय के प्रयासों के लिए भी शुक्रिया अदा किया।

पादरी को सूली पर लटकाने की थी तैयारी

ISIS के आतंकियों ने फादर टॉम को सूली पर लटकाने की घोषणा की थी और दिन भी तय कर लिया था। लेकिन भारत के प्रयासों के कारण फादर टॉप को आजादी नसीब हुई। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी उनके सकुशल देश वापसी को लेकर काफी कोशिश की थी। वतन वापसी पर फादर टॉम विदेशी मंत्री से मिले और उन्हें भी शुक्रिया अदा किया।

फादर टॉम को इस महीने के शुरुआत में आइएस के चंगुल से छुड़वाया गया था। दिल्ली आने के बाद फादर टॉम ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि वह उन सभी सर्वशक्तिमान लोगों का धन्यवाद करते हैं, जिन्होंने इस दिन को संभव बनाया।

 

IBC24, वेब डेस्क

 

Web Title : Tom Uskulle released from the clutches of ISIS

जरूर देखिये