बीजिंग ओलंपिक के ‘राजनीतिकरण’ पर पुतिन ने चीन का समर्थन किया

बीजिंग ओलंपिक के ‘राजनीतिकरण’ पर पुतिन ने चीन का समर्थन किया

: , January 25, 2022 / 08:06 PM IST

मास्को, 25 जनवरी (एपी) रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने मंगलवार को अपने देश के खिलाड़ियों को संबोधित करते हुए कहा कि उनका देश और चीन बीजिंग में शीतकालीन ओलंपिक से पहले ‘खेल के राजनीतिकरण और बहिष्कार’ का विरोध करते हैं।

अमेरिका उन कई देशों में शामिल है, जिन्होंने चीन में मानवाधिकारों के हनन पर चिंता जताते हुए अगले महीने शुरू होने वाले इन खेलों के राजनयिक बहिष्कार की घोषणा करते हुए कहा है कि वे इसमें अपने राजनेताओं या अन्य प्रतिनिधियों को नहीं भेजेंगे।  पुतिन ओलंपिक में भाग लेने और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मिलने की योजना बना रहे हैं।

पुतिन ने कहा, ‘‘ मैं मानता हूं कि इन प्रतियोगिताओं का मुख्य लक्ष्य अधिक से अधिक लोगों को खेल के लिए आकर्षित करना और लोगों के बीच दोस्ती को मजबूत करना है। हम आगामी खेलों के आयोजकों चीन के अपने मित्रों के साथ यही दृष्टिकोण साझा करते हैं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘हम  खेल के राजनीतिकरण और बहिष्कार के खिलाफ एक साथ खड़े हैं। हम पारंपरिक ओलंपिक मूल्यों को सबसे ऊपर रखते हुए समानता और निष्पक्षता का समर्थन करते हैं।’’

रूस की टीमों के ओलंपिक के लिए रवाना होने से पहले मास्को में सामान्य समारोह के बजाय, पुतिन ने देश भर के प्रशिक्षण केंद्रों में इकट्ठा हुए खिलाड़ियों को वीडियो लिंक द्वारा संबोधित करते हुए कहा, ‘‘मैं आपसे  इन खेलों के दौरान आयोजन समिति की सभी जरूरतों और चिकित्सा निर्देशों का सख्ती से पालन करने की सलाह देता हूं।’’

तोक्यो में पिछले साल के ग्रीष्मकालीन ओलंपिक की तरह बीजिंग में भी रूस के खिलाड़ी अपने देश की झंडे की जगह ‘आरओसी (रूस ओलंपिक समिति)’ के बैनर तले प्रतिस्पर्धा करेंगे। रूस पर वर्षों से चले आ रहे डोपिंग विवादों के कारण प्रतिबंध लगा है।

एपी आनन्द पंत

पंत

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)