अगले सप्ताह से अनिवार्य रूप से मास्क पहनने सहित कई प्रतिबंधों में दी छूट.. WFH खत्म… यहां लिया गया बड़ा फैसला

अगले सप्ताह से अनिवार्य रूप से मास्क पहनने सहित कई पतिबंधों में दी छूट.. WFH खत्म... यहां लिया गया बड़ा फैसला

: , January 20, 2022 / 10:58 AM IST

Relaxation in many Covid related restrictions :ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने एलान किया है कि देश में अनिवार्य रूप से मास्क पहनने सहित अन्य बंदिशों को हटाया जाएगा। पीएम जॉनसन के मुताबिक हमारे वैज्ञानिकों का मानना है कि देश में कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन की लहर का पीक आ चुका है। ऐसे में अब सरकार की तरफ से मास्क पहनने जैसे अनिवार्य कोविड-19 उपायों को समाप्त किया जाता है।

पढ़ें- 136 आवासीय विद्यालयों में 12वीं कक्षा तक के छात्रों को दिया जाएगा मोबाइल और टैबलेट.. यहां के लिए बड़ा एलान

ओमिक्रोन लगभग अपने चरम पर

जॉनसन ने संसद को बताया कि नवीनतम आंकड़े दर्शाते हैं कि देश में ओमिक्रोन लगभग अपने चरम पर पहुंच चुका है, जिसके बाद कोविड प्रतिबंधों में छूट दी जा सकती है। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘ इसलिए, आज सुबह मंत्रिमंडल ने फैसला किया कि बूस्टर खुराक के असाधारण अभियान और जनता द्वारा प्लान-बी सावधानी उपायों को लेकर जाहिर की गई प्रतिक्रिया के मद्देनजर हम अगले सप्ताह बृहस्पतिवार से प्लान-ए की तरफ लौट सकते हैं और प्लान-बी के प्रतिबंधों को समाप्त कर सकते हैं।’

पढ़ें- आज से 10वीं-12वीं के प्री-बोर्ड ‘टेक होम एग्जाम’.. स्टूडेंट घर बैठे देंगे परीक्षा.. ये रहेंगे नियम

जॉनसन मे कहा कि देश में ओमिक्रोन के हालात को देखते हुए कई प्रतिबंधों में छूट देने के बाद ब्रिटेन में अब लोगों को वर्क फ्रॉम होम करने को नहीं कहा जाएगा। वहीं सरकार की तरफ से लोगों को हर जगहों पर अनिवार्य मास्क पहनने के नियम को खत्म कर दिया गया है। अब लोग चाहें तो पब्लिक प्लेसेज पर बिना मास्क के घूम सकते हैं। इसके साथ ही जल्द ही स्कूल कक्षाओं में अनिवार्य रूप से मास्क पहनने की भी पाबंदी नहीं रहेगी।

पढ़ें- त्रिस्तरीय पंचायत आम और उपचुनाव के लिए वोटिंग.. 3 बजे तक मतदान के बाद मतगणना

वहीं दूसरी तरफ दुनिया में पिछले दिनों जारी रिपोर्ट के अनुसार 30.17 लाख लोगों की कोरोना संक्रमित होने की पहचान की गई थी। जबाकि इस वायरस से 8,039 लोगों की मौत हुई है। इसके अलावा हाल ही में WHO ने भी चेतावनी देते हुए कहा था कि ओमिक्रोन को हल्के में नहीं लेना ही समझदारी है। उन्होंने कहा था कि कोरोना के अन्य वेरिएंट भी आ सकते हैं इसलिए सभी देशों का सतर्क रहना जरूरी है।

पढ़ें- रिसर्च में बड़ा खुलासा.. कोरोना वैक्सीन की इम्यूनिटी कब तक रहती है.. जानिए