अमेरिका के एक सुपरमार्केट में गोलीबारी, 10 लोगों की मौत, पुलिस ने घृणा अपराध बताया

अमेरिका के एक सुपरमार्केट में गोलीबारी, 10 लोगों की मौत, पुलिस ने घृणा अपराध बताया

: , May 15, 2022 / 08:51 AM IST

बफेलो (अमेरिका), 15 मई (एपी) सेना की वर्दी पहने 18 वर्षीय श्वेत युवक ने अमेरिका के बफेलो शहर के एक सुपरमार्केट में शनिवार को राइफल से अंधाधुंध गोलियां बरसाईं। हमले में कम से कम 10 लोगों की मौत हो गई, जबकि तीन अन्य घायल हो गए। अधिकारियों ने इसे ‘नस्ली भावना से प्रेरित हिंसक चरमपंथ’ करार दिया है।

उन्होंने बताया कि हमलावर ने ढाल के तौर पर कवच धारण कर रखा था। उसने एक हेलमेट भी पहन रखा था, जिस पर लगे कैमरे से उसने घटना का सीधा प्रसारण किया।

खबरों के मुताबिक, हमलावर ने टॉप्स फ्रेंडली मार्केट में ज्यादातर अश्वेत खरीदारों और कर्मचारियों को निशाना बनाया। कम से कम दो मिनट तक उसने स्ट्रीमिंग मंच ‘ट्विच’ पर गोलीबारी का प्रसारण किया। हालांकि, इस मंच ने तुरंत ही उसका प्रसारण रोक दिया।

पुलिस के अनुसार, आत्मसमर्पण करने से पहले हमलावर ने 11 अश्वेत और दो श्वेत लोगों को गोली मारी। बाद में वह एक न्यायाधीश के समक्ष पेश हुआ और उसे हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया।

गवर्नर कैथी होचुल ने कहा, ‘‘मैं उम्मीद करती हूं कि यह शख्स, यह श्वेत वर्चस्ववादी, जिसने एक निर्दोष समुदाय के खिलाफ घृणा अपराध को अंजाम दिया है, वह अपनी बाकी की पूरी जिंदगी जेल की सलाखों के पीछे काटेगा।’’

हमलावर की पहचान दक्षिण-पूर्वी बफेलो से करीब 320 किलोमीटर दूर स्थित न्यूयॉर्क के कॉन्क्लिन निवासी पैटन गेंड्रोन के रूप में की गई है। अभी यह स्पष्ट नहीं है कि वह हमले को अंजाम देने के लिए गेंड्रोन कॉन्क्लिन से बफेलो क्यों आया। सोशल मीडिया पर जारी एक पोस्ट में उसे अपनी कार से सुपरमार्केट पहुंचते देखा जा सकता है।

बफेलो के पुलिस आयुक्त जोसेफ ग्रामाग्लिया ने बताया कि हमलावर ने स्टोर के बाहर चार लोगों को गोली मारी। जवाब में स्टोर के अंदर एक सुरक्षाकर्मी ने कई गोलियां चलाईं और एक गोली बंदूकधारी की बुलेटप्रूफ जैकेट पर लगी, जिसका उस पर कोई असर नहीं पड़ा। यह सुरक्षाकर्मी बफेलो पुलिस का सेवानिवृत्त पुलिस अधिकारी है।

आयुक्त के अनुसार, इसके बाद हमलावर ने सुरक्षाकर्मी की गोली मारकर हत्या कर दी और स्टोर में अन्य लोगों पर गोलियां बरसाने लगा।

बफेलो के मेयर बायरन ब्राउन ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘यह किसी भी समुदाय के लिए सबसे बुरे सपनों में से एक है और हम अभी बेहद आहत हैं। पीड़ितों के परिजन और हम सभी अभी जो दर्द महसूस कर रहे हैं, उसे शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता है।’’

खबरों के मुताबिक, पुलिस ने स्टोर में पहुंचकर हमलावर का सामना किया। ग्रामाग्लिया ने कहा, ‘‘उस वक्त हमलावर ने अपनी ही गर्दन पर राइफल तान दी थी। इसके बाद दो अधिकारियों ने उससे राइफल नीचे रखने के लिए कहा।’’

इससे पहले, एक संवाददाता सम्मेलन में एरी काउंटी के शेरिफ जॉन गार्सिया ने गोलीबारी को ‘घृणा अपराध’ बताया था। उन्होंने कहा, ‘‘यह पूरी तरह से शत्रुतापूर्ण कृत्य है। यह हमारे समुदाय से बाहर के किसी व्यक्ति का नस्ली भावना से प्रेरित घृणा अपराध है।’’

गौरतलब है कि पिछले साल मार्च में कोलोराडो के बोल्डर के किंग सूपर्स ग्रॉसरी में हुए इसी तरह के एक हमले में 10 लोगों की मौत हो गई थी।

इस बीच, व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव कैरिन ज्यां-पियरे ने कहा कि राष्ट्रपति जो बाइडन घटना और इससे संबंधित जांच पर नियमित जानकारी ले रहे हैं। उन्होंने और प्रथम महिला जिल बाइडन ने पीड़ितों और उनके परिजनों के प्रति संवेदनाएं व्यक्त की हैं।

एपी गोला पारुल

पारुल

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)