ब्याज दर बढ़ने के बावजूद पहली तिमाही में बैंक ऋण 14 प्रतिशत बढ़ा: आरबीआई |

ब्याज दर बढ़ने के बावजूद पहली तिमाही में बैंक ऋण 14 प्रतिशत बढ़ा: आरबीआई

ब्याज दर बढ़ने के बावजूद पहली तिमाही में बैंक ऋण 14 प्रतिशत बढ़ा: आरबीआई

: , September 23, 2022 / 09:28 PM IST

मुंबई, सितंबर 23 (भाषा) भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने शुक्रवार को कहा कि जून तिमाही के अंत में बैंकों में ऋण वृद्धि सालाना आधार पर 14 प्रतिशत रही।

आरबीआई ने कहा कि ये आंकड़े 89 अनुसूचित वाणिज्यिक बैंकों द्वारा दी जानकारी पर आधारित हैं। इनमें क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों का प्रदर्शन शामिल नहीं है। इससे पिछली तिमाही में यह आंकड़ा 10.7 प्रतिशत और जून 2021 तिमाही में 5.8 प्रतिशत था।

केंद्रीय बैंक ने कहा कि यह वृद्धि भारित औसत उधारी दर में 0.21 प्रतिशत की बढ़ोतरी के बावजूद हुई। यह भी गौरतलब है कि लगातार दस तिमाहियों के दौरान ब्याज दर में गिरावट के बाद समीक्षाधीन तिमाही में वृद्धि देखने को मिली।

आरबीआई ने बेकाबू होती मुद्रास्फीति को काबू में करने के लिए मई की शुरुआत में अपनी दरों को बढ़ाना शुरू किया था।

आंकड़ों के मुताबिक जून तिमाही में व्यक्तिगत ऋणों में 20.8 प्रतिशत की वृद्धि हुई, जबकि उद्योग को दिया गया ऋण 7.2 प्रतिशत की दर से बढ़ा। इस दौरान महिलाओं को मिले कर्ज की वृद्धि दर, पुरुषों के मुकाबले अधिक रही।

भाषा पाण्डेय रमण

रमण

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)