सरकार ने प्रवासी श्रमिकों की मदद के लिये निगरानी केंद्रों को फिर से चालू किया

सरकार ने प्रवासी श्रमिकों की मदद के लिये निगरानी केंद्रों को फिर से चालू किया

: , January 19, 2022 / 10:40 PM IST

नयी दिल्ली, 19 जनवरी (भाषा) केंद्रीय श्रम मंत्रालय ने बुधवार को कहा कि कोरोना वायरस की तीसरी लहर के बीच उसने विभिन्न राज्य सरकारों के सहयोग से प्रवासी श्रमिकों की समस्याओं को दूर करने में मदद के लिये देशभर में 21 निगरानी केंद्रों को फिर से चालू किया है।

आधिकारिक बयान के अनुसार महामारी की स्थिति में सुधार आने के साथ श्रम मंत्री भूपेन्द्र यादव और श्रम राज्यमंत्री रामेश्वर तेली देशभर में यात्रा कर कामकाजी समूह के साथ-साथ श्रमिक संगठनों के सदस्यों से बातचीत करेंगे और विभिन्न कल्याणकारी तथा सामाजिक सुरक्षा उपायों के क्रियान्वयन पर उनके विचार जानेंगे।

यादव ने बुधवार को विभिन्न श्रमिक संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ ‘ऑनलाइन’ बैठक की। बैठक में उन्होंने ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकरण के लिये कामगारों को प्रोत्साहित करने को ट्रेड यूनियन नेताओं का आभार जताया।

मंत्री ने कहा कि पोर्टल पूर्ण जन भागीदारी के साथ एक जन आंदोलन बन गया है। दो सौ से दिन से कुछ ही अधिक समय में असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले करीब 23 करोड़ कामगारों ने पोर्टल पर पंजीकरण कराया है।

उन्होंने यह भी कहा कि कोविड महामारी के फिर से फैलने और उसकी रोकथाम के लिये लगायी गयी पाबंदियों को देखते हुए मंत्रालय ने विभिन्न राज्य सरकारों के सहयोग से प्रवासी श्रमिकों की समस्याओं को दूर करने मे मदद के लिये देशभर में 21 निगरानी केंद्रों को पांच जनवरी से फिर से ‘सक्रिय’ किया है।

भाषा

रमण अजय

अजय

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)