अमेरिकी वित्त विभाग ने कहा, विनिमय दरों को लचीले तरीके से आगे बढ़ने की अनुमति दे भारत

अमेरिकी वित्त विभाग ने कहा, विनिमय दरों को लचीले तरीके से आगे बढ़ने की अनुमति दे भारत

Edited By: , December 4, 2021 / 02:09 PM IST

वाशिंगटन, चार दिसंबर (भाषा) अमेरिका के वित्त विभाग ने कहा है कि भारत ने अपने विदेशी मुद्रा विनियम बाजार के हस्तक्षेप को प्रकाशित करने में अनुकरणीय कार्य किया है। हालांकि, इसके साथ ही वित्त विभाग ने कहा कि भारत को आर्थिक बुनियाद को दर्शाने के लिए विदेशी मुद्रा विनिमय दरों को लचीले ढंग से आगे बढ़ने देना चाहिए।

विभाग ने शुक्रवार को कहा, ‘‘भारतीय अधिकारियों को आर्थिक बुनियादी पर विचार करते हुए विनिमय दर को लचीले ढंग से आगे बढ़ने देना चाहिए। साथ ही भारत को विदेशी मुद्रा बाजार में हस्तक्षेप को अव्यवस्थित बाजार स्थितियों की परिस्थितियों तक सीमित करना चाहिए।’’

अमेरिकी वित्त विभाग ने कहा, ‘‘आर्थिक पुनरुद्धार के साथ संरचनात्मक सुधारों को भी आगे बढ़ाना जारी रखा जाना चाहिए, ताकि उत्पादकता और जीवन स्तर को ऊपर उठाने में मदद मिल सके।’’

अमेरिका के प्रमुख व्यापारिक भागीदारों की आर्थिक और विदेशी मुद्रा नीतियों पर संसद को सौंपी गई अर्द्ध-वार्षिक रिपोर्ट में वित्त विभाग ने अपने प्रमुख व्यापारिक भागीदारों की नीतियों की समीक्षा की है।

विभाग ने अपनी रिपोर्ट में अमेरिका के प्रमुख व्यापार भागीदारों की नीतियों का आकलन किया है। इसमें जून, 2021 तक चार तिमाहियों में उसके वस्तुओं और सेवाओं के विदेशी व्यापार का 80 प्रतिशत हिस्सा शामिल है।

भाषा जतिन अजय

अजय