भारत की आर्थिक वृद्धि दर 2023 में घटकर 5.9 प्रतिशत रहेगी: गोल्डमैन सैक्स |

भारत की आर्थिक वृद्धि दर 2023 में घटकर 5.9 प्रतिशत रहेगी: गोल्डमैन सैक्स

भारत की आर्थिक वृद्धि दर 2023 में घटकर 5.9 प्रतिशत रहेगी: गोल्डमैन सैक्स

: , November 29, 2022 / 08:08 PM IST

मुंबई, 23 नवंबर (भाषा) अमेरिका की ब्रोकरेज कंपनी गोल्डमैन सैक्स ने भारत की आर्थिक वृद्धि दर के 2023 में 5.9 प्रतिशत पर रहने का अनुमान लगाया है। यह पूर्व में लगाए गए 6.9 प्रतिशत की वृद्धि दर के अनुमान से एक प्रतिशत कम है।

गोल्डमैन सैक्स ने यह भी कहा कि दिसंबर 2023 तक नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 20,500 अंक के स्तर तक पहुंच सकता है। इससे निवेशकों को 12 प्रतिशत तक का रिटर्न मिल सकता है।

ब्रोकरेज कंपनी ने हालांकि बीएसई सेंसेक्स कोई लक्ष्य नहीं दिया है।

वहीं, 2023 के लिए कंपनी ने भारतीय अर्थव्यवस्था के 5.9 प्रतिशत की दर से बढ़ने का अनुमान जताया है। जबकि वर्ष 2022 के लिए यह अनुमान 6.9 प्रतिशत का है।

ब्रोकरेज के अनुसार, आर्थिक वृद्धि दो हिस्सों में बंट सकती है। वर्ष 2023 में पहली छमाही में आर्थिक वृद्धि धीमी रह सकती है। वहीं, दूसरी छमाही में निवेश बढ़ने, वैश्चिक बाजारों में सुधार से आर्थिक वृद्धि में फिर से तेजी आने की संभावना है।

ब्रोकरेज ने कहा कि भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) दिसंबर की मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक में रेपो दर में 0.50 अंक और फरवरी, 2023 की बैठक में 0.35 प्रतिशत की वृद्धि कर सकता है। इससे अगले साल फरवरी तक रेपो दर 6.75 प्रतिशत पर पहुंच जाएगी।

भाषा जतिन अजय

अजय

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)