शीर्ष 500 निजी कंपनियों का मूल्यांकन 2,800 अरब डॉलर, देश के जीडीपी का 71 प्रतिशत |

शीर्ष 500 निजी कंपनियों का मूल्यांकन 2,800 अरब डॉलर, देश के जीडीपी का 71 प्रतिशत

शीर्ष 500 निजी कंपनियों का मूल्यांकन 2,800 अरब डॉलर, देश के जीडीपी का 71 प्रतिशत

:   February 12, 2024 / 06:51 PM IST

मुंबई, 12 फरवरी (भाषा) रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) की अगुवाई में देश में निजी क्षेत्र की शीर्ष 500 कंपनियों का मूल्यांकन 2,800 अरब अमेरिकी डॉलर या 231 लाख करोड़ रुपये है। यह राशि सऊदी अरब, स्विट्जरलैंड और सिंगापुर के सामूहिक सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) से अधिक है।

साथ ही यह राशि भारत के जीडीपी का करीब 71 प्रतिशत है। एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई।

रिपोर्ट में कहा गया है कि रिलायंस इंडस्ट्रीज 15.65 लाख करोड़ रुपये के मूल्यांकन के साथ लगातार तीसरे साल शीर्ष स्थान पर बनी हुई है। आरआईएल का मूल्यांकन दूसरे स्थान की कंपनी टीसीएस से करीब तीन लाख करोड़ रुपये अधिक है।

हुरुन इंडिया-एक्सिस बैंक-2023 की सबसे मूल्यवान कंपनियों की सूची के अनुसार, एचडीएफसी बैंक 10 लाख करोड़ रुपये के बाजार मूल्यांकन के साथ तीसरी सबसे मूल्यवान कंपनी बन गया है।

हुरुन इंडिया के प्रबंध निदेशक अनस रहमान जुनैद ने कहा कि इन कंपनियों ने वर्ष में 13 प्रतिशत की बिक्री वृद्धि दर्ज की है और उनकी संयुक्त बिक्री 952 अरब डॉलर है।

एक्सिस बैंक के प्रबंध निदेशक अमिताभ चौधरी ने कहा कि ये 500 कंपनियां 1.3 प्रतिशत या 70 लाख से अधिक लोगों को रोजगार देती हैं।

सूची में 52 कंपनियां एक दशक से भी कम पुरानी हैं और सबसे पुरानी कंपनी ईआईडी-पैरी (235 साल) है।

निजी क्षेत्र की शीर्ष 500 कंपनियों की सूची में सूचीबद्ध और गैर-सूचीबद्ध दोनों कंपनियां शामिल हैं। इनमें हालांकि सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियां और विदेशी कंपनियां शामिल नहीं हैं।

भाषा

पाण्डेय अजय

अजय

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers