राम मोहन नायडू, तेदेपा के प्रति निष्ठा और सार्वजनिक सेवा के लिए प्रतिबद्धता का मिश्रण |

राम मोहन नायडू, तेदेपा के प्रति निष्ठा और सार्वजनिक सेवा के लिए प्रतिबद्धता का मिश्रण

राम मोहन नायडू, तेदेपा के प्रति निष्ठा और सार्वजनिक सेवा के लिए प्रतिबद्धता का मिश्रण

:   Modified Date:  June 9, 2024 / 08:36 PM IST, Published Date : June 9, 2024/8:36 pm IST

नयी दिल्ली, नौ जून (भाषा) एक होनहार युवा नेता से लेकर ‘सबसे युवा केंद्रीय कैबिनेट मंत्री’ तक, राम मोहन नायडू किंजरापु की यात्रा उनकी पार्टी, तेदेपा के प्रति वफादारी और सार्वजनिक सेवा के प्रति अटूट प्रतिबद्धता का उदाहरण है।

रविवार को राजग के नए मंत्रिमंडल में उन्होंने कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली। 37 साल की कम उम्र में रविवार को कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ लेने वाले के राम मोहन नायडू श्रीकाकुलम लोकसभा क्षेत्र से सांसद हैं।

वह दिवंगत तेदेपा नेता के येरन नायडू के पुत्र हैं, जो 1996 में संयुक्त मोर्चा सरकार में पूर्व केंद्रीय मंत्री थे। एक सड़क दुर्घटना में येरन नायडू की मृत्यु हो गई थी। राम मोहन नायडू पहली बार 2014 में श्रीकाकुलम से संसद में पहुंचे और 2024 में तीसरी बार उसी निर्वाचन क्षेत्र से यह उपलब्धि दोहराई।

उन्होंने 2024 के चुनाव में वाईएसआरसीपी के पी. तिलक को 3.2 लाख से ज्यादा वोटों से हराया। राम मोहन नायडू ने अपनी स्कूली शिक्षा दिल्ली पब्लिक स्कूल से की और अमेरिका की पर्ड्यू यूनिवर्सिटी से इंजीनियरिंग की पढ़ाई की, उसके बाद लॉन्ग आइलैंड से एमबीए में स्नातकोत्तर की डिग्री हासिल की।

प्रारंभ में वह सिंगापुर में अपना कैरियर बनाने में जुटे थे लेकिन 2012 में एक कार दुर्घटना में उनके पिता की मृत्यु के बाद वह राजनीति के क्षेत्र में आ गए।

उन्होंने 26 साल की उम्र में 2014 में श्रीकाकुलम से लोकसभा सांसद के रूप में चुनाव लड़ा और जीत हासिल की, जिससे 16वीं लोकसभा में दूसरे सबसे युवा सांसद के रूप में उनकी पहचान बनी। पिछले एक दशक में वे कई संसदीय समितियों का हिस्सा रहे।

उनके उत्कृष्ट योगदान को स्वीकार करते हुए, उन्हें सांसद के रूप में उनके प्रदर्शन के लिए 2020 में संसद रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया गया। राम मोहन नायडू के शौक में फोटोग्राफी शामिल है, जिसे उन्होंने अपने कॉलेज के दिनों में गंभीरता से अपनाया। वह खेलों के भी शौकीन हैं, उन्हें बास्केटबॉल और क्रिकेट काफी पसंद हैं।

भाषा प्रशांत नरेश

नरेश

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers