आप ने लगाया आबकारी नीति घोटाले के गवाह और भाजपा के बीच संबंध का आरोप |

आप ने लगाया आबकारी नीति घोटाले के गवाह और भाजपा के बीच संबंध का आरोप

आप ने लगाया आबकारी नीति घोटाले के गवाह और भाजपा के बीच संबंध का आरोप

:   Modified Date:  March 30, 2024 / 03:01 PM IST, Published Date : March 30, 2024/3:01 pm IST

नयी दिल्ली, 30 मार्च (भाषा) आम आदमी पार्टी (आप) ने शनिवार को कथित आबकारी नीति घोटाले के एक गवाह और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के बीच संबंध होने का आरोप लगाया और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को इसकी जांच कराने की चुनौती दी।

आप के वरिष्ठ नेताओं- दिल्ली की मंत्री आतिशी और सौरभ भारद्वाज ने एक संवाददाता सम्मेलन में आरोप लगाया कि मगुंटा श्रीनिवासुलु रेड्डी को भाजपा की सहयोगी तेलुगु देसम पार्टी (तेदेपा) ने लोकसभा चुनाव में टिकट दिया है। मगुंटा श्रीनिवासुलु रेड्डी के बेटे राघव मगुंटा रेड्डी को आबकारी नीति मामले में ईडी ने गिरफ्तार किया था।

आतिशी ने कहा, ”मैं ईडी को चुनौती देती हूं कि अगर यह एक स्वतंत्र जांच एजेंसी है कि वह इस ‘कनेक्शन’ (संबंध) को रिकॉर्ड में लाए और इसकी जांच करे।”

उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा का शराब व्यापारियों की तथाकथित ‘साउथ लॉबी’ से संबंध है।

आप के आरोप पर भाजपा की ओर से तत्काल कोई प्रतिक्रिया नहीं आयी है।

आप नेताओं ने दावा किया कि केजरीवाल को चार बयानों के आधार पर गिरफ्तार किया गया था जिनमें मगुंटा का बयान भी शामिल है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को ईडी ने आबकारी नीति से जुड़े धन शोधन मामले में 21 मार्च को गिरफ्तार किया था।

आतिशी ने आरोप लगाया, ‘इससे पहले, आबकारी नीति मामले में केजरीवाल के खिलाफ एक और गवाह सरत रेड्डी ने चुनावी बॉण्ड के माध्यम से भाजपा को 55 करोड़ रुपये का भुगतान किया था, जो साबित करता है कि पार्टी का ‘साउथ लॉबी’ से संबंध है।’

उन्होंने आरोप लगाया कि ईडी ने गवाहों को तब तक ‘‘प्रताड़ित’’ किया जब तक कि उनसे केजरीवाल के खिलाफ बयान नहीं मिल गए।

आबकारी नीति मामले में ईडी द्वारा दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत से पूछताछ का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा, ‘वे मुझे, भारद्वाज और अन्य आप नेताओं को बुला सकते हैं और हमें गिरफ्तार कर सकते हैं लेकिन हम जेल जाने से नहीं डरते।’

उन्होंने कहा कि केजरीवाल की गिरफ्तारी देश में ‘लोकतंत्र पर हमला’ है और पूरे ‘‘इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इन्क्लूसिव अलायंस’ (इंडिया) गठबंधन ने इसका विरोध किया है।

भाषा मनीषा अमित

अमित

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers