असम : पुलिस हिरासत में आरोपी की मौत के बाद लखीमपुर में फैला तनाव |

असम : पुलिस हिरासत में आरोपी की मौत के बाद लखीमपुर में फैला तनाव

असम : पुलिस हिरासत में आरोपी की मौत के बाद लखीमपुर में फैला तनाव

:   Modified Date:  May 23, 2024 / 05:01 PM IST, Published Date : May 23, 2024/5:01 pm IST

लखीमपुर (असम), 23 मई (भाषा) असम के लखीमपुर में मोबाइल फोन चुराने के एक आरोपी की पुलिस हिरासत में मौत के बाद तनाव फैल गया और खेलमती इलाके में लोगों ने प्रदर्शन किया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

अधिकारियों ने बताया कि घटना के संबंध में दो पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है।

खेलमती चौकी के अधिकारियों ने मोबाइल फोन और अन्य विद्युत उपकरण चुराने के आरोप में बुधवार रात को आरोपी सहित पांच लोगों को गिरफ्तार किया था।

लखीमपुर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (मुख्यालय) एल. के. डेका ने बताया कि थाने के भीतर एक बेंच पर बैठा आरोपी अचानक से गिर गया और उसे आनन-फानन में एक अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

अधिकारी ने बताया कि खेलमती चौकी के प्रभारी दीपांकर चांगमई और ड्यूटी पर तैनात अन्य कर्मी को निलंबित कर दिया गया है।

उन्होंने बताया, ‘‘चूंकि मौत थाने के भीतर हुई है, इसलिए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पद के एक अधिकारी द्वारा विभागीय जांच कराई जाएगी।’’

अधिकारियों ने बताया कि घटना के विरोध में प्रदर्शन करने के लिए भारी संख्या में लोग तड़के थाने के सामने जमा हो गये और इलाके में तनाव फैल गया, जिसके बाद हालात पर नियंत्रण पाने के लिए वरिष्ठ अधिकारी तुरंत मौके पर पहुंचे।

डेका ने बताया कि घटना की मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए जाएंगे और चिकित्सकों की एक समिति पोस्टमार्टम करेगी, जिसकी वीडियोग्राफी भी की जाएगी, ताकि मौत का सही कारण पता चल सके।

असम पुलिस के महानिदेशक जी. पी. सिंह ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा, ‘‘उत्तरी लखीमपुर जिले के खेलमती में पुलिस हिरासत में हुई मौत के संदर्भ में चौकी प्रभारी के साथ-साथ घटना के वक्त ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मी को भी निलंबित कर दिया गया है।”

उन्होंने कहा, ”बिश्वनाथ (जिला) के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक द्वारा स्वतंत्र जांच का आदेश दिया गया है। राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग और असम मानवाधिकार आयोग के नियमों का पालन किया जा रहा है। इसके अलावा उत्तरी क्षेत्र के पुलिस उपमहानिरीक्षक को तत्काल खेलमती जाने का निर्देश दिया गया है।”

भाषा जितेंद्र सुरेश

सुरेश

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers