वैक्सीन नहीं लगाने वाले कोरोना मरीजों की हो रही मौत! देखें डराने वाले आंकड़ें, आप रहे अलर्ट

13 से 15 जनवरी के बीच कुल 89 मरीजों की मौत हुई, जिनमें से केवल 36 प्रतिशत लोगों ने ही टीके की दोनों खुराक ली थीं।

: , January 28, 2022 / 07:35 AM IST

नयी दिल्ली।  दिल्ली में कोविड-19 के कारण 13 से 15 जनवरी के बीच कुल 89 मरीजों की मौत हुई, जिनमें से केवल 36 प्रतिशत लोगों ने ही टीके की दोनों खुराक ली थीं।

यह भी पढ़ें: ‘उठाव नहीं होने से करोड़ो का धान खराब’ नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने साधा निशाना

आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक 13 से 25 जनवरी के बीच कोविड-19 के कारण कुल 438 मरीजों की मौत हुई, जिनमें से 94 मरीज ऐसे थे, जिनकी मौत का प्रमुख कारण वायरस से संक्रमण था।

यह भी पढ़ें: बजट 2022-23 को दिया जा रहा अंतिम चरण, कांग्रेस नेताओं के पास है अच्छे सुझाव तो सरकार को दें: मंत्री जगदीश देवड़ा

आंकड़ों के मुताबिक, इस दौरान कोविड-19 के कारण जान गंवाने वालों में अधिकतर मरीज गुर्दे, कैंसर और फेफड़े संबंधी अन्य जानलेवा बीमारियों से पीड़ित थे।

दिल्ली सरकार की द्वारा उपलब्ध कराए गए आंकड़ों के मुताबिक, एक जनवरी से 23 जनवरी के बीच 2,503 कुल नमूनों की जीनोम सीक्वेंसिंग की गयी, जिनमें से 79 प्रतिशत नमूनों में कोरोना वायरस के ओमीक्रोन स्वरूप की पुष्टि हुई।

यह भी पढ़ें: लड़की को कहता था बहन, फिर एक दिन खेत में बुलाकर बनाया हवस का शिकार, 7 दिनों के भीतर सामने आए लव जिहाद के तीन मामले

कोविड-19 महामारी की दूसरी भीषण लहर के दौरान कहर बरपाने वाले वायरस के डेल्टा स्वरूप की पुष्टि 13.70 प्रतिशत नमूनों में हुई।

यह भी पढ़ें: जरूरत पड़ी तो टाली जाएगी 10वीं और 12वीं बोर्ड की परीक्षा, शिक्षा मंत्री का बड़ा बयान