द्रमुक ने कच्चातिवु पर टिप्पणी को लेकर मोदी की आलोचना की, कांग्रेस ने ‘चीनी घुसपैठ’ पर जवाब मांगा |

द्रमुक ने कच्चातिवु पर टिप्पणी को लेकर मोदी की आलोचना की, कांग्रेस ने ‘चीनी घुसपैठ’ पर जवाब मांगा

द्रमुक ने कच्चातिवु पर टिप्पणी को लेकर मोदी की आलोचना की, कांग्रेस ने ‘चीनी घुसपैठ’ पर जवाब मांगा

:   Modified Date:  March 31, 2024 / 08:13 PM IST, Published Date : March 31, 2024/8:13 pm IST

चेन्नई, 31 मार्च (भाषा) द्रविड़ मुन्नेत्र कषगम (द्रमुक) और इसके सहयोगी दल कांग्रेस ने कच्चातिवु द्वीप ‘‘संवेदनहीन’’ ढंग से श्रीलंका को दे दिये जाने संबंधी टिप्पणी को लेकर रविवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की आलोचना की।

तमिलनाडु में सत्तारूढ़ दल द्रमुक ने यह भी कहा कि उसने इस द्वीप को 1974 में पड़ोसी देश को दिये जाने का विरोध किया था।

वहीं, कांग्रेस की तमिलनाडु इकाई ने मोदी पर निशाना साधते हुए भारतीय क्षेत्र में ‘‘चीन की घुसपैठ’’ पर जवाब मांगा।

मोदी के आरोपों पर जवाब देते हुए द्रमुक के संगठन सचिव आर एस भारती ने कहा कि प्रधानमंत्री के पास दिखाने के लिए कोई उपलब्धि नहीं है और वह (मोदी) केवल ‘‘झूठ’’ फैला रहे हैं।

भारती ने कहा कि इतिहास का अध्ययन किये बिना किसी मुद्दे पर बात करना गलत है। उन्होंने कहा कि 1974 में द्रमुक ने कच्चातिवु श्रीलंका को दिये जाने के विरोध में राज्यव्यापी आंदोलन और जनसभाएं की थीं।

उन्होंने कहा कि द्रमुक के रुख को पार्टी के दिवंगत संस्थापक एम करूणानिधि और पार्टी प्रमुख एम. के. स्टालिन ने कई बार स्पष्ट रूप से जाहिर किया है।

राज्यसभा के पूर्व सदस्य भारती ने कहा, ‘‘आप किसी सोये हुए व्यक्ति को जगा सकते हैं लेकिन उस व्यक्ति को नहीं, जो सोये होने का दिखावा कर रहा हो।’’

भारती ने कहा कि यदि मोदी कच्चातिवु को लेकर सचमुच में इच्छुक हैं तो वह अपने 10 साल के शासन के दौरान फिर से इस पर दावा कर सकते थे। उन्होंने पूछा, ‘‘उन्होंने कच्चातिवु मुद्दे को क्यों नहीं उठाया?’’

तमिलनाडु कांग्रेस कमेटी प्रमुख के. सेल्वापरुंतागई ने कच्चातिवु मुद्दा उठाने को लेकर मोदी की आलोचना की।

कांग्रेस नेता ने ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में यह जानना चाहा कि, ‘‘ प्रधानमंत्री मोदी भारतीय क्षेत्र में चीनी घुसपैठ, संसद की सुरक्षा में चूक, 44 सैनिकों की जान लेने वाले पुलवामा आतंकी हमले, मणिपुर में स्थिति और राफेल लड़ाकू विमान सौदे से जुड़ी गायब (चोरी हुए) दस्तावेजों पर कब बात करेंगे।’’

प्रधानमंत्री मोदी ने मीडिया में आयी एक खबर के हवाले से रविवार को कहा कि नए तथ्यों से पता चलता है कि कांग्रेस ने कच्चातिवु द्वीप ‘‘संवेदनहीन’’ ढंग से श्रीलंका को दे दिया था।

उन्होंने ‘एक्स’ पर एक खबर साझा करते हुए कहा, ‘‘आंखें खोलने वाली और चौंका देने वाली खबर। नए तथ्यों से पता चलता है कि कांग्रेस ने कैसे संवेदनहीन ढंग से कच्चातिवु दे दिया था। इससे प्रत्येक भारतीय नाराज है और लोगों के मन में यह बात बैठ गयी है कि हम कभी कांग्रेस पर भरोसा नहीं कर सकते।’’

भाषा सुभाष नरेश

नरेश

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers