मैं सिर्फ तुष्टीकरण की कांग्रेस की राजनीति का पर्दाफाश कर रहा हूं: प्रधानमंत्री मोदी |

मैं सिर्फ तुष्टीकरण की कांग्रेस की राजनीति का पर्दाफाश कर रहा हूं: प्रधानमंत्री मोदी

मैं सिर्फ तुष्टीकरण की कांग्रेस की राजनीति का पर्दाफाश कर रहा हूं: प्रधानमंत्री मोदी

:   Modified Date:  May 15, 2024 / 10:52 PM IST, Published Date : May 15, 2024/10:52 pm IST

कल्याण (महाराष्ट्र), 15 मई (भाषा) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को कहा कि उन पर हिंदू-मुस्लिम मुद्दा उठाने का आरोप लगाया जा रहा है, लेकिन वह केवल कांग्रेस और ‘इंडी’ गठबंधन की तुष्टीकरण की राजनीति और लोगों को धार्मिक आधार पर बांटने की उनकी साजिश का पर्दाफाश कर रहे हैं।

महाराष्ट्र में ठाणे जिले के कल्याण में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस कभी भी विकास की बात नहीं कर सकती, बल्कि वह केवल हिंदुओं और मुसलमानों के बीच दरार पैदा कर सकती है।

उन्होंने कहा कि उनके पूर्ववर्ती डॉ. मनमोहन सिंह ने कहा था कि देश के संसाधनों पर पहला अधिकार अल्पसंख्यकों का है।

मोदी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस अल्पसंख्यकों के लिए 15 प्रतिशत धन आवंटित करके देश के बजट को मुस्लिम बजट और हिंदू बजट में विभाजित करना चाहती है। उन्होंने दावा किया कि विपक्षी ‘इंडी’ गठबंधन सत्ता में आने के बाद तुष्टीकरण की इस नीति को लागू करेगा।

उन्होंने पूछा, ‘‘क्या देश को ऐसे ही चलाना चाहिए? कांग्रेस ने पहले धर्म के नाम पर देश को बांटा और वह अब भी ऐसा करना चाहती है। यदि ‘इंडी’ गठबंधन सत्ता में आता है, तो वे देश को धार्मिक आधार पर विभाजित कर देंगे….हमें देश को एक साथ रखना होगा…क्या भारतीयों को विभाजित करना अच्छी बात है? क्या ऐसे लोगों को महाराष्ट्र में एक भी सीट जीतने देना चाहिए?’’

प्रधानमंत्री ने आरोप लगाया कि ‘इंडी’ गठबंधन और ‘‘कांग्रेस के शहजादे’’ (राहुल गांधी के स्पष्ट संदर्भ में) तुष्टीकरण को लेकर राजनीति कर रहे है और कर्नाटक उनकी प्रयोगशाला है।

उन्होंने कहा, ‘‘कांग्रेस के नेता वोट-जिहाद की बात करते हैं। मुझ पर हिंदू-मुस्लिम (राजनीति करने) का आरोप लगाया जा रहा है, लेकिन मैं केवल लोगों को धर्म के आधार पर बांटने और उनकी तुष्टीकरण की राजनीति करने की कांग्रेस और ‘इंडी’ गठबंधन की साजिश को बेनकाब कर रहा हूं। मेरी छवि से ज्यादा देश की एकता जरूरी है।’’

मोदी ने कहा, ‘‘नकली’’ (उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली) शिवसेना को राहुल गांधी से विनायक दामोदर सावरकर के पक्ष में ‘‘पांच पंक्तियां’’ बोलने के लिए कहना चाहिए।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी द्वारा सावरकर की पहले की गई आलोचना का जिक्र करते हुए मोदी ने दावा किया, ‘‘चुनाव के डर से ‘इंडी’ गठबंधन के नेताओं ने शहजादे से सावरकर का जिक्र बंद करने को कहा है। इसलिए, वह अपने भाषणों में सावरकर का जिक्र नहीं करते हैं।’’

कांग्रेस की सहयोगी उद्धव ठाकरे नीत शिवसेना ने दिवंगत स्वतंत्रता सेनानी और हिंदुत्व विचारक के बारे में राहुल गांधी की आलोचनात्मक टिप्पणियों से किनारा कर लिया था।

मोदी ने लोगों से अपील करते हुए कहा, ‘‘(मार्च 1993 मुंबई विस्फोट के दोषी) याकूब मेमन की कब्र को संवारा गया है और राम मंदिर के निमंत्रण को खारिज कर दिया गया है। क्या आप चुनाव में ‘इंडी’ गठबंधन को दंडित करेंगे? मजबूत और विकसित भारत के लिए और तुष्टीकरण के खिलाफ वोट करें।’’

प्रधानमंत्री ने कहा कि देश का कल्याण उनकी प्राथमिकता है और उनके दस साल के कार्यकाल में 25 करोड़ लोगों को गरीबी रेखा से ऊपर लाया गया।

मोदी ने कहा कि गरीबों को पक्के घर, नल का पानी, बिजली और मुफ्त स्वास्थ्य बीमा सुविधा प्रदान की गई।

उन्होंने कहा, ‘‘हम पहली बार देश में आत्मविश्वास देख रहे हैं, जो संकल्प के साथ नयी ऊंचाइयों को छू रहा है। मैंने अपने तीसरे कार्यकाल के लिए विकास एजेंडे का 100 दिन का खाका पहले ही तैयार कर लिया है। मेरी मेहनत चार जून के बाद भी जारी रहेगी। ये मेरा नहीं, भारत की जनता का भरोसा है।’’

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘आपके सपने मोदी की प्रतिबद्धता हैं।’’

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के बेटे एवं शिवसेना के मौजूदा सांसद श्रीकांत शिंदे कल्याण लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। इस सीट पर 20 मई को मतदान होगा।

भाषा

देवेंद्र अविनाश

अविनाश

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers