झारखंड: जनजातीय संगठन के 26 सदस्यों पर आचार संहिता के ‘उल्लंघन’ का मामला दर्ज |

झारखंड: जनजातीय संगठन के 26 सदस्यों पर आचार संहिता के ‘उल्लंघन’ का मामला दर्ज

झारखंड: जनजातीय संगठन के 26 सदस्यों पर आचार संहिता के ‘उल्लंघन’ का मामला दर्ज

:   Modified Date:  April 12, 2024 / 10:31 PM IST, Published Date : April 12, 2024/10:31 pm IST

रांची, 12 अप्रैल (भाषा) जेल में बंद झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के समर्थन में यहां कथित तौर पर झांकी निकालकर आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन करने के आरोप में एक जनजातीय संगठन के कुल 26 लोगों पर मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि यह झांकी कथित तौर पर केंद्रीय सरना समिति (केएसएस) के सदस्यों द्वारा बृहस्पतिवार को ‘सरहुल’ त्योहार के दौरान निकाली गई थी जिसमें जेल के बाहर खड़े प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) के अधिकारियों के साथ सोरेन को सलाखों के पीछे दिखाया गया था।

सोरेन को धन शोधन मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने 31 जनवरी को गिरफ्तार किया था। वह फिलहाल न्यायिक हिरासत में हैं।

एक पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘‘मजिस्ट्रेट विनय कुमार की लिखित शिकायत के आधार पर रांची के कोतवाली पुलिस थाने में 26 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई।’’ उन्होंने कहा कि प्रथम दृष्टया यह राजनीतिक अभियान का हिस्सा लगता है, जबकि आदर्श आचार संहिता लागू है। प्राथमिकी में केएसएस अध्यक्ष फूलचंद तिर्की का भी नाम है।

भाषा संतोष माधव

माधव

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers