कोलकाता: साड़ी पहन कर चर्चा में आए दो पुरुष मॉडल |

कोलकाता: साड़ी पहन कर चर्चा में आए दो पुरुष मॉडल

कोलकाता: साड़ी पहन कर चर्चा में आए दो पुरुष मॉडल

: , July 2, 2022 / 10:58 PM IST

कोलकाता, दो जुलाई (भाषा) कोलकाता के दो पुरुष मॉडल ने साड़ी पहनकर लैंगिक रूढ़िवादिता को चुनौती दी। दरअसल, प्रीतम घोषाल और अमित जैन ने एक जून से 30 जून तक चले एक कार्यक्रम ‘प्राइड मंथ’ के दौरान फोटो शूट में साड़ियों का कलेक्शन पेश किया।

इन साड़ियों में सफेद और काले तथा नारंगी और नीले रंगों का ज्यादातर उपयोग किया गया था।

प्राइड मंथ में आयोजित विशेष फोटो शूट पर घोषाल ने कहा, “हम नई पीढ़ी के पुरुषों का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं जो आकर्षक परिधान पहनकर लैंगिक रूढ़िवाद और पौरुष के विचार को चुनौती देते हैं।”

यह पहल करने वाली देवरूपा भट्टाचार्य ने कहा, “रूढ़िवादी लोग हमारे आसपास हर जगह हैं और हमें उनके साथ रहने पर मजबूर होना पड़ता है लेकिन पुरुषों को एक खास तरीके से ही कपड़े क्यों पहनने होते हैं। इसका कोई जवाब नहीं है।”

उन्होंने कहा कि ‘प्राइड मंथ’ के अवसर पर आयोजित विशेष फोटो शूट में एक तरफ साड़ी की एक परिधान के रूप में विविधता को दर्शाया गया और दूसरी तरफ पहनने वाले कपड़े के विकल्प चुनने की स्वतंत्रता को रेखांकित किया गया।

उन्होंने कहा कि विशेष शूट के जरिये एक परिधान के रूप में साड़ी की बहुमुखी प्रतिभा को सामने लाया गया है। उन्होंने कहा, ‘‘इस प्रक्रिया में जो सामने आया वह पुरुषों के साड़ी को इस तरह से पहनने का एक सराहनीय चित्रण है, जिससे वे विशिष्ट पौरुष परिधानों की तुलना में और भी अधिक आकर्षक दिखते हैं।’’

जैन ने कहा, ‘‘हम यह संदेश देना चाहते हैं कि कपड़े आनंद लेने और इनका इस्तेमाल करने के लिए होता है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘जब बाधाओं को दूर किया जाता है, तो उस क्षेत्र का विस्तार किया जा सकता है और व्यक्ति अपनी पसंद को जाहिर कर सकता है।’’

एक होटल में एक अन्य फोटोशूट में मॉडल पुष्पक सेन ने भी साड़ी गर्व के साथ पहनी। उन्होंने कहा, ‘‘मेरे सामने जितने भी प्रश्न हैं, उनमें से कुछ सुसंगत हैं। जब एक पूर्ण विकसित पुरुष हर जगह साड़ी पहनता है, तो उसकी मां को कैसा लगता है? क्या उसकी मां भी उसे अपने बेटे के रूप में स्वीकार करती है।’’

अपनी मां के साथ अपनी एक तस्वीर पोस्ट करते हुए सेन ने कहा, ‘‘यहां वह (मां) मेरे साथ हैं, हम दोनों ने साड़ी पहनी हुई है और बिंदी लगा रखी है। वह मुझ पर भारी पड़ रही है, हालांकि मेरी साड़ी सत्यजीत रे की फिल्म ‘देवी’ के पोस्टर से प्रेरित जामदानी है।’’

भाषा देवेंद्र सुभाष

सुभाष आशीष

आशीष

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

#HarGharTiranga