प्रज्वल रेवन्ना के खिलाफ कोई भी पीड़िता शिकायत दर्ज कराने नहीं पहुंची: राष्ट्रीय महिला आयोग |

प्रज्वल रेवन्ना के खिलाफ कोई भी पीड़िता शिकायत दर्ज कराने नहीं पहुंची: राष्ट्रीय महिला आयोग

प्रज्वल रेवन्ना के खिलाफ कोई भी पीड़िता शिकायत दर्ज कराने नहीं पहुंची: राष्ट्रीय महिला आयोग

:   Modified Date:  May 9, 2024 / 06:34 PM IST, Published Date : May 9, 2024/6:34 pm IST

नयी दिल्ली, नौ मई (भाषा) कर्नाटक के सांसद प्रज्वल रेवन्ना के खिलाफ राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्ल्यू) में शिकायत दर्ज कराने के लिए कोई भी पीड़िता आगे नहीं आई और इसके पास पहुंची एक महिला शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया कि उसे जनता दल (सेक्युलर) नेता के खिलाफ फर्जी शिकायत दर्ज करने के लिए मजबूर किया गया था। आयोग ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी।

आयोग ने कहा कि संबंधित अधिकारियों द्वारा समय पर कार्रवाई रिपोर्ट (एटीआर) प्रस्तुत करने से कई महत्वपूर्ण निष्कर्ष सामने आते हैं।

इसने कहा कि मामले की गहन जांच के लिए एक विशेष जांच दल (एसआईटी) समिति का गठन किया गया है।

आयोग के अनुसार एटीआर से पीड़ितों द्वारा यौन शोषण की शिकायतों के आधार पर दो मामलों के पंजीकरण का संकेत मिलता है। इसके साथ ही एक रिश्तेदार द्वारा अपहरण के लिए दायर एक अतिरिक्त शिकायत भी दर्ज की गई।

इसने कहा कि इस मामले में हालांकि कोई भी पीड़िता आयोग में शिकायत दर्ज कराने के लिए आगे नहीं आई है।

आयोग ने दावा किया, ‘‘एक महिला शिकायतकर्ता तीन व्यक्तियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने के लिए आयोग में आई थी। इस महिला ने खुद को कर्नाटक पुलिस अधिकारी के रूप में कथित तौर पर पेश किया और उन पर इस मामले में झूठी शिकायत देने के लिए दबाव डाला गया।’’

आयोग ने कहा, ‘‘महिला ने बताया कि उसे कई फोन नंबरों से कॉल कर शिकायत करने की धमकी दी जा रही है। पीड़िता ने स्थिति की गंभीरता को रेखांकित करते हुए अपने परिवार के लिए सुरक्षा की मांग की है।’’

एक अन्य घटनाक्रम में आयोग ने कहा कि ऑनलाइन शिकायत दर्ज करने वाली 700 महिलाएं एक सामाजिक कार्यकर्ता समूह से जुड़ी हैं और मामले में मुख्य शिकायतकर्ता के साथ उनका कोई प्रत्यक्ष जुड़ाव या संबंध नहीं है।

आयोग ने एक पोस्ट में कहा, ‘‘एनसीडब्ल्यू बताना चाहेगा कि प्रज्वल रेवन्ना मामले में 700 महिलाओं ने एनसीडब्ल्यू को कोई शिकायत नहीं दी है। कुछ मीडिया चैनल इस संबंध में गलत खबर चला रहे हैं।’’

पुलिस ने घर में काम करने वाली एक महिला की शिकायत के आधार पर प्रज्वल रेवन्ना और उनके पिता जद (एस) विधायक एवं पूर्व मंत्री एचडी रेवन्ना के खिलाफ यौन उत्पीड़न और आपराधिक धमकी देने का मामला दर्ज किया था।

प्रज्वल (33) हासन लोकसभा सीट से भाजपा-जद(एस) गठबंधन के उम्मीदवार हैं। इस सीट पर 26 अप्रैल को मतदान हुआ था।

भाषा

देवेंद्र माधव

माधव

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers