Now the loss of online fraud will be compensated

अब ऑनलाइन फ्रॉड के नुकसान की होगी भरपाई, वापस मिलेंगे सभी पैसे, बस करना होगा ये काम

Cyber Insurance Policy: बढ़ती जरूरतों को देखते हुए एसबीआई जनरल इंश्‍योरेंस ने भी एक नई पॉलिसी Cyber VaultEdge लॉन्‍च की है।

Edited By: , July 22, 2022 / 09:49 PM IST

Cyber Insurance Policy: भारत में अभी साइबर इंश्‍योरेंस पॉलिसी ज्‍यादा प्रचलित नहीं है। इंटरनेट के बढ़ रहे उपयोग के कारण अब साइबर क्राइम में भी कीफी ज्यादा वृद्धि हो रही है। मनीकंट्रोल की एक रिपोर्ट के मुताबिक, साइबर इंश्‍योरेंस की बढ़ती जरूरतों को देखते हुए एसबीआई जनरल इंश्‍योरेंस ने भी एक नई पॉलिसी Cyber VaultEdge लॉन्‍च की है। यह पॉलिसी भी पॉलिसीहोल्‍डर को साइबर लॉसेस से कवर करेगी। ग्‍लोबल इंश्‍योरेंस ब्रोकर्स प्राइवेट लिमिटेड के डायरेक्‍टर, लाइबेलिटी मनोज कुमार एएस का कहना है कि जिस व्‍यक्ति का भी बैंक में खाता है, उसे साइबर इंश्‍योरेंस की जरूरत है। साइबर इंश्‍योरेंस आज बहुत जरूरी हो गया है।

अगर आप इंटरनेट पर ज्‍यादा समय बिताते हैं, और ऑनलाइन शॉपिंग और नेट बैंकिंग का इस्‍तेमाल करते हैं या आप सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म्‍स पर काफी एक्टिव रहते हैं, तो आपके लिए साइबर इंश्‍योरेंस पॉलिसी लेना बहुत जरूरी है। क्योंकि साइबर इंश्‍योरेंस पॉलिसी बैंक खाते या वॉलेट से चोरी होने वाले नुकसान को तो कवर करती ही है, इसके साथ ही यह साइबर बुलिंग और साइबर एक्‍सटोर्सन से पॉलिसीधारक को हुई हानि की क्षतिपूर्ति भी करती है। इसके अलावा साइबर क्राइम से लगे मानसिक झटके का इलाज खर्च भी साइबर इंश्‍योरेंस पॉलिसी में ही कवर होता है।

Read more: National Film Awards 2022 : 68वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार का हुआ ऐलान, इन दो अभिनेताओं को मिला बेस्ट एक्टर का अवार्ड 

जानें क्या-क्या होगा कवर

Cyber Insurance Policy: एसबीआई की साइबर वॉल्‍टएज साइबर इंश्‍योरेंस पॉलिसी बीमाधारक को काफी विस्‍तृत कवर प्रदान करेगी। यह बैंक अकाउंट या वॉलेट से पैसे चोरी होने, धोखाधड़ी से किसी द्वारा ऑनलाइन पैसे हड़पने पर हुए नुकसान की भरपाई तो करेगी ही साथ ही साइबर बुलिंग और साइबर एक्‍सटोर्सन की भरपाई भी करेगी। यही नहीं अगर आपने किसी सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म पर अनजाने में किसी के बारे में कुछ आपत्तिजनक कह देने पर आप पर हुए केस को लड़ने पर लगे पैसे की भरपाई भी वॉल्‍टऐज पॉलिसी करेगी। बता दें कि पॉलिसी अनजाने में हुए कार्यों की ही भरपाई करेगी। अगर आप जानबूझकर कुछ आपत्तिजनक करेंगे तो उसकी क्षतिपूर्ति पॉलिसी से नहीं होगी।

सिक्‍योर नाउ इंश्‍योरेंस ब्रोकर के को-फाउंडर कपिल मेहता का कहना है कि एसबीआई जनरल इंश्‍योरेंस की वॉल्‍टऐज साइबर पॉलिसी की खास बात यह है कि यह आपके नाबालिग बच्‍चों की ऑनलाइन गति‍विधियों से आपको हुए नुकसान की भरपाई भी करती है। बच्‍चे आजकल इंटरनेट पर बहुत वक्‍त बिताते हैं और अपने कुछ ऑनलाइन कार्यों के परिणामों के बारे में नहीं जानते हैं। इसलिए उनसे गलतियां हो जाती हैं जिसका खामियाजा माता-पिता को भुगतना पड़ता है।

साइबर बुलिंग इंटरनेट के माध्यम से होने वाला शोषण है। इसमें किसी को धमकी देना, उसके खिलाफ अफवाह फैलाना, भद्दे कमेंट व घृणास्पद बयानबाजी करना, अश्लील भाषा, फोटो का गलत इस्तेमाल आदि काम किया जाते हैं। इसी तरह साइबर एक्‍सटॉरशन में साइबर अपराधी किसी व्‍यक्ति के कंप्‍यूटर या मोबाइल में सेंध लगाकर उसे हैक कर लेते हैं और डेटा चुरा लेते हैं। फिर वे उस व्‍यक्ति को उसके सिस्‍टम को वापस देने के लिए पैसे की मांग करते हैं।

Read more: IBC24 की अन्य बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

 

#HarGharTiranga