ठाणे में शिवसेना कार्यकर्ताओं ने बंद लागू करने के लिए ऑटोरिक्शा ड्राइवरों की पिटाई की

ठाणे में शिवसेना कार्यकर्ताओं ने बंद लागू करने के लिए ऑटोरिक्शा ड्राइवरों की पिटाई की

Edited By: , October 11, 2021 / 05:24 PM IST

ठाणे/पालघर, 11 अक्टूबर (भाषा) उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा में किसानों की मौत के विरोध में महा विकास आघाड़ी (एमवीए) सरकार के तीनों घटकों के महाराष्ट्र बंद के आह्वान के तहत सोमवार को ठाणे में शिवसेना एवं राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के कार्यकर्ताओं ने संयुक्त रैली निकाली।

ठाणे के महापौर नरेश म्हास्के के नेतृत्व में यह रैली विभिन्न मुख्य मार्गों से गुजरी और दोनों दलों की महिला कार्यकर्ताओं ने बड़ी संख्या में उसमें हिस्सा लिया।

कांग्रेस की ठाणे इकाई ने अलग रैली निकाली। शहर में शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने उन ऑटोरिक्शा चालकों की पिटाई की, जो बंद का उल्लंघन कर यात्रियों को ले जा रहे थे। कई स्थानों पर पुलिस की उपस्थिति में प्रदर्शनकारियों ने जबरन दुकानें बंद करायीं।

ठाणे जिले के कल्याण शहर में स्थानीय शिवसेना नेताओं ने दुकानें एवं अन्य कारोबार जबर्दस्ती बंद कराये।

निकटवर्ती नवी मुंबई में राकांपा के कार्यकर्ताओं ने वासी में एपीएमसी बाजार क्षेत्र के समीप दुकानदारों से जबर्दस्ती दुकानें बंद कराईं।

निकटवर्ती पालघर जिले के बोईसर और वसई में बंद का असर देखा गया। पुलिस के अनुसार कोई अप्रिय घटना नहीं घटी।

भाषा

राजकुमार दिलीप

दिलीप