कल्लूरी की अगुवाई में नान घोटाले की जांच के लिए 12 सदस्यीय एसआईटी गठित

 Edited By: Sanjeet Tripathi

Published on 08 Jan 2019 06:08 PM, Updated On 08 Jan 2019 05:06 PM

रायपुर। छत्तीसगढ़ सरकार ने नान घोटाले की जांच के लिए एसआईटी का गठन कर दिया है। इस एसआईटी को एसीबी-ईओडल्यू के आईजी एसआरपी कल्लूरी लीड करेंगे। एसआईटी के बाकी सदस्यों में  नारायणपुर के एसपी आई कल्याण एलेसेला, एएसपी ईओडब्ल्यू मनोज खिलाड़ी, जशपुर की एएसपी उनेजा खातून अंसारी, ईओडबल्यू के डीएसपी विश्वास चंद्राकर, ईओडबल्यू के डीएसपी अनिल बख्शी को टीम में शामिल हैं।

इनके अलावा सीआईडी के निरीक्षक एलएस कश्यप, एसीबी के निरीक्षक बृजेश तिवारी, एसीबी के निरीक्षक रमाकांत साहू, कांकेर के निरीक्षक मोतीलाल पटेल, ईओडबल्यू के निरीक्षक फरहान कुरैशी को शामिल किया गया है। साथ ही, विधि विशेषज्ञ के रूप में एनएन चतुर्वेदी को भी टीम में शामिल किया गया है।

यह भी पढ़ें : कुंभ 2019: 40 हजार एलईडी लाइट्स से जगमगाने लगा त्रिवेणी संगम,12 करोड़ से ज्यादा श्रद्धालु पहुंचेंगे मेले में 

बता दें कि एसआईटी को तीन महीने में जांच पूरी कर रिपोर्ट देनी है। नान घोटाले की एसआईटी जांच के लिए भूपेश कैबिनेट ने निर्णय लिया था। कहा गया था कि अब तक डायरी के सिर्फ 6-7 पन्नों को आधार बनाकर जांच की जा रही थी, लेकिन एसआईटी डायरी के पूरे 117 पन्नों में दर्ज नामों को आधार बनाकर जांच करेगी।

देखिए आदेश की कॉपी

 

Web Title : 12-member SIT constituted to investigate nan scandal under leadership of Kalluri

जरूर देखिये