राष्ट्रपति की मंजूरी के बाद निर्वाचन आयोग का बड़ा फैसला, तमिलनाडु की वेल्लोर सीट पर मतदान रद्द

 Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 16 Apr 2019 11:04 PM, Updated On 16 Apr 2019 11:04 PM

नई दिल्ली: तमिलनाडु की वेल्लोर लोकसभा सीट पर चुनाव रद्द करने की निर्वाचन आयोग की सिफारिश पर आखिकर मंगलवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मुहर लगा दी है। बता दें वेल्लोर लोकसभा सीट पर 18 अप्रैल को मतदान होना था। चुनाव रद्द होने के बाद इसके लिए नई तारीख तय की जाएगी, इसके बाद निर्वाचन आयोग यहां मतदान की नई तारीख तय करेगी।

Read More: कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय की महिला कर्मचारियों ने पुरूष लेखापाल पर लगाया दुर्व्यवहार करने का अरोप

गौरतलब है कि 30 मार्च को यकर अधिकारियों ने आनंद के पिता डी.मुरुगन के आवास पर चुनाव प्रचार में बेहिसाब धनराशि इस्तेमाल के शक पर छापेमारी की थी और 10.50 लाख रुपए कथित ‘‘अतिरिक्त’’ कैश बरामद किया था। दो दिन बाद उन्होंने उसी जिले में द्रमुक नेता के एक सहयोगी के सीमेंट गोदाम से 11.53 करोड़ रुपये जब्त करने का दावा किया था। इसके बाद निर्वाचन आयोग ने राष्ट्रपति से चुनाव रद्द करने की मांग की थी। मंजूरी मिलने पर ईसी के बयान में कहा गया, “14 अप्रैल को हमारी ओर से दी गई सिफारिश को राष्ट्रपति ने मानते हुए वेल्लोर सीट पर चुनाव रद्द कर दिया है।”

Read More: DMK उम्मीवार कनिमोझी के घर पर इनकम टैक्स की दबिश, कार्यकर्ता कर रहे घर के बाहर प्रदर्शन

पुलिस के अनुसार, आनंद पर नामांकन पत्र के साथ दिए गए हलफनामे में ‘‘गलत सूचना’’ देने के लिए जनप्रतिनिधि कानून के तहत आरोप लगाया गया। दो अन्य के खिलाफ रिश्वत के आरोपों के तहत मामला दर्ज किया गया, जिनकी पहचान श्रीनिवासन और दामोदरन के तौर पर हुई। हालांकि, मुरुगन ने दावा किया कि उन्होंने कुछ भी छुपाया नहीं है। उन्होंने आयकर विभाग की कार्रवाई के समय पर सवाल उठाते हुए आरोप लगाया कि छापेमारी कुछ नेताओं का ‘‘षड्यंत्र’’ है जो उनका मुकाबला चुनावी मैदान में नहीं कर सकते।

Web Title : Cancelled polls in vellore seat due to seized 11 crore cash in IT Raid

जरूर देखिये