मदनमहल से दमोहनाका फ्लाईओवर का टेंडर रद्द, विभाग ने लगाए कंपनी पर लापरवाही के आरोप

 Edited By: Renu Nandi

Published on 11 Mar 2019 12:54 PM, Updated On 11 Mar 2019 12:54 PM

जबलपुर- जबलपुर में फ्लाईओवर का निर्माण फिर खटाई में पड़ता नजर आ रहा है। जिसके पीछे की वजह ठेकेदार द्वारा की जा रही लापरवाही बताई जा रही है। ज्ञात हो कि जब से मदनमहल से दमोह नाका फ्लाईओवर निर्माण की बात की जा रही थी कुछ ना कुछ परेशानी सामने आ रही थी। पिछले दिनों रेलवे ने भी अपनी जमीन पर दो खंभे लगाने की परमिशन देने से मना कर दिया था।

ये भी पढ़ें -चुनाव की तारीख को लेकर टीएमसी नेता का आरोप, सरकार नहीं 

अब खबर मिली है कि इस फ्लाईओवर निर्माण का टेंडर जिस कंपनी की दिया गया था। वह रद्द कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि पीडब्लूडी विभाग ने गुजरात की एजेंसी रंजीत बिल्डकॉन को इसका टेंडर दिया गया था। गुजरात की इस कंपनी ने यह फ्लाईओवर बनाने के लिए ठेका लेकर मप्र लोक निर्माण विभाग से अनुबंध नहीं किया था। इसलिए पीडब्ल्यूडी ने यह ठेका निरस्त करके कंपनी द्वारा जमा राशि 616 लाख रुपए जब्त कर लिए। पीडब्ल्यूडी ने इसके साथ दमोहनाका-मदनमहल फ्लाईओवर का 8 मार्च को ऑनलाइन नया टेंडर भी जारी कर दिया है।

ये भी पढ़ें -दर्दनाक हादसा: चलती कार में लगी आग, मां और दो बच्चियों की मौके पर मौत

इस विषय में पीडब्ल्यूडी विभाग का कहना है कि दमोहनाका-मदनमहल फ्लाईओवर का भूमिपूजन होने के बाद अहमदाबाद की ठेका कंपनी रंजीत बिल्डकॉन को पत्र जारी कर अनुबंध करने कहा गया। इस पर भी कंपनी प्रबंधन ने पीडब्ल्यूडी से समय पर अनुबंध नहीं किया।इसके चलते इसे रद्द किया गया है। बता दें कि जबलपुर का बहुप्रतीक्षित और प्रदेश का सबसे बड़ा दमोहनाका-मदनमहल फ्लाईओवर का भूमिपूजन 22 फरवरी को केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने किया था। लेकिन सरकार बदलने के साथ ही इस फ्लाईओवर के निर्माण में फिर से खटाई में पड़ती नज़र आ रही है।

Web Title : Daman Naka-Madan Mahal flyover canceled tenders from

जरूर देखिये