विख्यात ऑर्थोपेडिक सर्जन एचके तकी रज़ा का निधन, कमलनाथ सरकार ने दी थी छिंदवाड़ा मेडिकल कॉलेज के डीन की जिम्मेदारी

Reported By: Vijendra Pandey, Edited By: Rupesh Sahu

Published on 14 Mar 2019 05:11 PM, Updated On 14 Mar 2019 05:15 PM

जबलपुर । महाकौशल के जाने माने ऑर्थोपैडिक सर्जन और छिंदवाड़ा मेडिकल कॉलेज के डीन, डॉक्टर एचके तकी रज़ा का नागपुर में इलाज के दौरान निधन हो गया। मेडिकल कॉलेज के डीन डॉक्टर तकी रज़ा को देर रात 3 बजे सीने में तकलीफ के बाद नागपुर ले जाया गया था। बता दें कि सीने में तकलीफ के बाद छिंदवाड़ा मेडिकल हॉस्पिटल में उनका इलाज किया गया, तबियत बिगड़ने पर डॉक्टर तकी रज़ा को नागपुर रेफर किया गया । गुरुवार सुबह करीब दस बजे डॉक्टर तकीराजा की मौत हो गई।

ये भी पढ़ें- यात्री ने रेल मंत्री से बहन के लिए ट्विटर पर मांगी मदद, तत्काल हुई कार्रवाई

नागपुर के डॉक्टर्स ने मौत की वजह हार्ट अटैक होना बताया है। डीन तकी रज़ा की मौत के बाद छिंदवाड़ा और जबलपुर सहित पूरे महाकौशल के चिकित्सा जगत में शोक की लहर है । डॉक्टर रज़ा बीते दो दशकों से पूरे महाकौशल में हड्डियों के रोगों के इलाज के लिए जाने जाते रहे हैं। मध्यप्रदेश सहित कई पूरे देश से उनके पास इलाज के लिए मरीज आते रहे हैं।

ये भी पढ़ें- सरकार हर ग्रेजुएट को रोजगार नहीं दे सकती, मप्र की राज्यपाल ने स्वरोजगार लगाने की दी सलाह

डॉक्टर तकी रज़ा को बीते दिनों छिंदवाड़ा मेडिकल कॉलेज का डीन बनाया गया था, जहां बीती 28 फरवरी को वो मुख्यमंत्री कमलनाथ के साथ मेडिकल कॉलेज के लोकार्पण कार्यक्रम में शामिल हुए थे। ऑर्थोपैडिक सर्जनडीन डॉक्टर तकी रज़ा की मौत से चिकित्सा जगत में शोक का माहौल है।

Web Title : The death of noted Orthopedic surgeon HK Taki Raza the Kamalnath government had given the responsibility of the dean of Chhindwara Medical College