सरकार हर ग्रेजुएट को रोजगार नहीं दे सकती, मप्र की राज्यपाल ने स्वरोजगार लगाने की दी सलाह

 Edited By: Rupesh Sahu

Published on 14 Mar 2019 04:11 PM, Updated On 14 Mar 2019 04:11 PM

जबलपुर। लोकसभा चुनाव में रोजगार जहां बड़ा मुद्दा बनता जा रहा है,वहीं मध्यप्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने इस मुद्दे पर बयान दिया है। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल का कहना है कि सरकार हर ग्रेजुएट को रोजगार नहीं दे सकती लिहाजा ये ज़रुरी है कि प्रदेश के पढ़े लिखे युवा, केन्द्र और राज्य सरकार की योजनाओं का लाभ उठाएं और बैंक लोन के ज़रिए अपना खुद का व्यवसाय, खुद का रोज़गार तैयार करें। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल गुरुवार को जबलपुर में दो विश्वविद्यालयों के दीक्षांत समारोह में शामिल होने पहुंची थीं। राज्यपाल रानीदुर्गावती विश्वविद्यालय और फिर जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोहों में शामिल हुईं।

ये भी पढ़ें- रेलवे में 1,665 पदों पर निकली भर्ती, 12वीं पास के लिए सुनहरा मौका.....

रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में राज्यपाल ने छात्र छात्राओं को संबोधित करते हुए रिलाइंस कंपनी के धीरूभाई अंबानी का उदाहरण दिया। राज्यपाल ने कहा कि धीरुभाई अंबानी ने रोज़गार ढूंढने की बजाय स्वरोजगार का रास्ता अपनाया और आज उनका परिवार दुनिया के सबसे अमीर परिवारों में शामिल है। राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने युवाओं को समझाईश देते हुए कहा कि वो नौकरी ढूंढने की बजाए कौशल विकास की ट्रेनिंग लेकर मुद्रा लोन ले सकते हैं और पढ़े लिखा युवा भी खुद का व्यवसाय खड़ा कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें- इंडियन नेवी में होगी 554 पदों पर भर्ती, जल्द करें आवेदन समय सीमित

राज्यपाल ने मध्यप्रदेश के विश्वविद्यालयों से कहा कि वो सामाजिक दायित्वों को भी समझें और कुपोषण से लड़ाई से लेकर वृक्षारोपण तक देश और समाज की भलाई के लिए काम करें। राज्यपाल ने कहा कि विश्वविद्यालयों को ऐसे अनुसंधान और शोधों को बढ़ाना चाहिए जिनका फायदा समाज के साथ देश को मिले। राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने प्रदेश के तमाम विश्वविद्यालयों समय पर परीक्षा और रिजल्ट देकर ऐकेडमिक कैलेंडर का पालन सुनिश्चित करने की हिदायत भी दी।

ये भी पढ़ें- एसएससी ने निकाली 3 हजार से ज्यादा भर्तियां, जल्द करें आवेदन

दीक्षांत समारोहों में राज्यपाल ने प्रतिभावान छात्र-छात्राओं को गोल्ड मैडल बांटे। राज्यपाल ने रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय के 40 छात्र-छात्राओं को 126 गोल्ड मैडल दिए। मण्डला की पूजा ज्योतिषी नाम की एक छात्रा ने इकॉनोमिक्स में दस गोल्ड मैडल प्राप्त किए जो इस विश्वविद्यालय के लिए नया रिकॉर्ड बन गया है।

Web Title : The government can not employ every graduate, The governor of MP gave the advice of self-employment

जरूर देखिये