भारतीय मिश्रित चार गुणा 400 मीटर रिले टीम ने एशियाई रिले में राष्ट्रीय रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण जीता |

भारतीय मिश्रित चार गुणा 400 मीटर रिले टीम ने एशियाई रिले में राष्ट्रीय रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण जीता

भारतीय मिश्रित चार गुणा 400 मीटर रिले टीम ने एशियाई रिले में राष्ट्रीय रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण जीता

:   Modified Date:  May 20, 2024 / 06:44 PM IST, Published Date : May 20, 2024/6:44 pm IST

बैंकॉक, 20 मई (भाषा) भारत की मिश्रित चार गुणा 400 मीटर रिले टीम ने सोमवार को यहां पहली एशियाई रिले चैंपियनशिप में राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाते हुए स्वर्ण पदक जीता। भारतीय टीम हालांकि पेरिस ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने में नाकाम रही।

मुहम्मद अजमल, ज्योतिका श्री दांडी, अमोज जैकब और शुभा वेंकटेशन की चौकड़ी ने तीन मिनट 14.12 सेकेंड के समय के साथ स्वर्ण पदक अपने नाम किया। इससे पहले का राष्ट्रीय रिकॉर्ड तीन मिनट 14.34 सेकेंड का था जो भारतीय टीम ने पिछले साल हांगझोउ एशियाई खेलों में रजत पदक जीतने के दौरान बनाया था।

भारतीय टीम रेस के चारों चरण के दौरान बढ़त बनाए हुए थी।

श्रीलंका की टीम तीन मिनट 17.00 सेकेंड के समय के साथ दूसरे स्थान पर रही जबकि वियतनाम की टीम ने तीन मिनट 18.45 सेकेंड के समय के साथ तीसरा स्थान हासिल किया।

सोमवार का यह समय भारतीय टीम को विश्व एथलेटिक्स की रोड टू पेरिस सूची में 21वें स्थान पर जगह दिलाता है। टीम का लक्ष्य 15वें या 16वें स्थान तक आना था। इस तरह भारतीय टीम की पेरिस ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने की राह मुश्किल हो गई है क्योंकि पेरिस में मिश्रित चार गुणा 400 मीटर रिले टीम में सिर्फ 16 टीम हिस्सा लेंगी।

बहामास के नसाऊ में विश्व एथलेटिक्स रिले से पहले ही 14 चार गुणा 400 मीटर रिले टीम पेरिस ओलंपिक के लिए स्वत: क्वालीफाई कर चुकी हैं। अब 30 जून की समयसीमा तक देशों के सर्वश्रेष्ठ समय के आधार पर सिर्फ दो स्थान भरे जाने हैं।

चेक गणराज्य (तीन मिनट 11.98) और इटली (तीन मिनट 13.56 सेकेंड) रोड डू पेरिस सूची में अभी क्रमश: 15वें और 16वें स्थान पर हैं। इससे पहले ही शीर्ष 14 टीम विश्व एथलेटिक्स रिले के दौरान पेरिस ओलंपिक का टिकट कटा चुकी हैं जहां भारतीय टीम क्वालीफाई करने में नाकाम रही।

सोमवार को भारत का लक्ष्य कम से कम तीन मिनट 13.56 सेकेंड से बेहतर प्रदर्शन करना था जिससे कि वह 16वें स्थान पर आ जाए लेकिन टीम ऐसा करने में नाकाम रही।

भारतीय एथलेटिक्स महासंघ (एएफआई) 30 जून की समय सीमा से पहले मिश्रित चार गुणा 400 मीटर रिले टीम को अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भेजने पर विचार कर सकता है।

भारत मंगलवार को एशियाई रिले के दूसरे दिन पुरुष और महिला चार गुणा 400 मीटर रिले रेस में प्रतिस्पर्धा पेश करेगा।

बहामास में राजेश रमेश, रूपल चौधरी, अविनाश कृष्ण कुमार और ज्योतिका श्री दांडी की भारतीय मिश्रित चार गुणा 400 मीटर रिले चौकड़ी ने खराब प्रदर्शन किया और पहले दौर के क्वालीफायर की हीट (शुरुआती दौर की रेस) में पेरिस का टिकट कटाने में विफल रही।

पुरुषों की चार 400 मीटर रिले दौड़ में भाग लेते समय रमेश के घायल हो जाने के बाद भारतीय टीम ने दूसरे दौर के क्वालीफायर की हीट से अपना नाम वापस ले लिया।

बाद में पुरुषों और महिलाओं दोनों की चार गुणा 400 मीटर रिले टीमों ने दूसरे दौर की क्वालीफिकेशन हीट के दौरान पेरिस खेलों के लिए क्वालीफाई किया।

भाषा सुधीर आनन्द

आनन्द

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers