मध्य प्रदेश में बड़ी संख्या में स्कूल शिक्षक विहीन हैं : मंत्री

मध्य प्रदेश में बड़ी संख्या में स्कूल शिक्षक विहीन हैं : मंत्री

: , March 29, 2021 / 12:30 AM IST

भोपाल, नौ मार्च (भाषा) मध्य प्रदेश सरकार ने मंगलवार को विधानसभा में स्वीकार किया कि प्रदेश के अलीराजपुर, झाबुआ, बड़वानी, सिंगरौली, सीधी, मंडला एवं धार जिलों के 1587 स्कूलों समेत कई अन्य जिलों में बड़ी संख्या में स्कूलों में शिक्षक नहीं है ।

भाजपा विधायक यशपाल सिंह सिसौदिया द्वारा ध्यनाकर्षण के जरिए उठाये गये सवाल का जवाब देते हुए प्रदेश के स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) इंदर सिंह परमार ने सदन को बताया कि पिछले कई सालों में भर्तियां नहीं होने से पिछली कांग्रेस नीत सरकार की स्थानांतरण नीति के कारण बड़े पैमाने पर हमारे यहां के स्कूल खाली हैं और कई जगहों पर पाठशालायें शिक्षक विहीन हो चुकी हैं ।

उन्होंने कहा कि जिन सात जिलों का जिक्र सिसौदिया ने किया है, उनमें से अलीराजपुर जिले में 256 स्कूल शिक्षक विहीन हैं, जबकि झाबुआ जिले में 208, बड़वानी में 428, सिंगरौली में 128, सीधी में 122, मंडला में 237 एवं धार जिले में 208 स्कूल शिक्षक विहीन हैं।

परमार ने कहा कि ऐसे अन्य सभी जिलों में बड़ी संख्या में शिक्षक विहीन शालाएं हैं।

उन्होंने कहा कि मैं पूरे सदन को विश्वास दिला रहा हूं कि अगले शिक्षण सत्र में हम बहुत जल्दी सभी स्कूलों में जहां-जहां ऐसी शिक्षक विहीन पाठशालाएं हैं, वहां पर पहले से प्राथमिकता के साथ शिक्षकों की भर्ती कर उनको भरने वाले हैं और समस्या का निराकरण होगा।

परमार ने कहा कि हम 20,670 शिक्षकों की भर्ती करने जा रहे हैं, जिनमें 15,000 उच्चतर माध्यमिक और 5,670 मध्य विद्यालय के शिक्षक हैं। उन्होंने कहा कि मैं समझता हूं कि शिक्षा विभाग के लिए यह बड़ा काम होगा। उन्होंने कहा कि शिक्षक भर्ती प्रक्रिया में पिछड़े वर्ग के लिये 27 प्रतिशत आरक्षण रखा जायेगा ।

उन्होंने कहा कि 15 महीने तक चली पिछली कांग्रेस सरकार के समय राज्य में लगभग 35,000 शिक्षकों के स्थानांतरण हुए हैं।

भाषा रावत

रंजन

रंजन

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)