सरकार बदलने के साथ ही 'मीडिया मंडल' भी बदल जाएगा : अखिलेश |

सरकार बदलने के साथ ही ‘मीडिया मंडल’ भी बदल जाएगा : अखिलेश

सरकार बदलने के साथ ही 'मीडिया मंडल' भी बदल जाएगा : अखिलेश

:   Modified Date:  May 20, 2024 / 06:29 PM IST, Published Date : May 20, 2024/6:29 pm IST

बस्ती/सिद्धार्थनगर, (उप्र) 20 मई (भाषा) समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्‍तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सोमवार को चार जून को लोकसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद इंडिया गठबंधन की सरकार बनने का दावा करते हुए कहा कि सरकार तो बदलेगी ही बदलेगी, इनका मंत्रिमंडल बदलेगा और साथ- साथ मीडिया मंडल भी बदल जाएगा।

इस बार चुनाव में देश की 140 करोड़ जनता भाजपा को 140 सीट के लिये भी तरसा देगी।

यादव ने बस्ती और डुमरियागंज लोकसभा क्षेत्र में पार्टी उम्मीदवारों के समर्थन में आयोजित एक चुनावी रैली में चिलचिलाती धूप में उमड़ी भीड़ का स्वागत करते हुए कहा, ”2024 का ये चुनाव बहुत अलग होता जा रहा है। इस चुनाव में देखने को मिल रहा कि जनता ने हर सीमाएं तोड़ दीं। पूरी तरह ‘इंडिया’ गठबंधन को समर्थन के लिए जनता निकल पड़ी है।”

मतदाताओं से ‘इंडिया’ गठबंधन के उम्मीदवारों को जिताने की अपील करते हुए सपा प्रमुख ने कहा, ”भाजपा के अच्छे दिन तो आए नहीं, कम से कम चार जून को इनको हराकर खुशियों के दिन तो ले आओ।”

उन्होंने कहा, ”भाजपा के लोग ‘400 पार’ का नारा दे रहे थे। इस बार याद रखना कि देश की 140 करोड़ जनता भाजपा को 140 सीट के लिए भी तरसा देगी।”

सपा प्रमुख ने दावा किया कि ” केवल बदलाव नहीं आ रहा है, सरकार तो बदलेगी ही बदलेगी, इनका मंत्रिमंडल बदलेगा और साथ-साथ मीडिया मंडल भी बदल जाएगा।”

हालांकि, मीडिया मंडल से उनका क्या मतलब है, इसका खुलासा उन्होंने नहीं किया।

यादव ने दावा करते हुए कहा, ”भाजपा वालों के चुनावी पंडाल खाली हैं। उनके पंडालों में कोई नहीं जाता। उनके पंडालों में विभागों के अधिकारी और कर्मचारी कपड़े बदलकर बैठ रहे हैं। आजकल जनता भाजपा नेताओं को सुनने नहीं पहुंच रही है।’’

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, ”आप देख लेना जब सातवें चरण में चुनाव पहुंचेगा, जनता का गुस्सा सातवें आसमान पर दिखाई देगा। और जो लोग संविधान बदलना चाहते हैं, उन्‍हें जनता बदल देगी।”

उन्होंने कहा, ”अभी तक तो हम बोलते थे कि सरकार ने बड़े-बड़े उद्योगपतियों के 16 लाख करोड़ रुपये के कर्ज माफ किये हैं, लेकिन नई जानकारी मिल रही है कि भाजपा ने उनका लगभग 25 लाख करोड रुपये का कर्ज माफ किया है। जिस तरह से भाजपा ने 25 लाख करोड़ रुपये उद्योगपतियों का माफ किया है, ‘इंडिया’ गठबंधन की सरकार के सत्ता में आने पर किसानों का पूरा कर्ज माफ किया जाएगा।”

यादव ने कहा, ”न केवल कर्ज माफ होगा बल्कि किसानों की कानूनी अधिकार की मांग भी पूरी होगी, न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) के लिए भी कानूनी अधिकार दिलाने का काम होगा।”

सपा प्रमुख ने भाजपा पर ईडी, सीबीआई और आयकर विभाग का डर दिखाकर बड़े-बड़े उद्योगपतियों से चुनावी बॉण्ड के नाम पर हजारों करोड़ रुपये का चंदा वसूलने का आरोप लगाते हुए कहा, ”याद रखना, अगर कोई एक हजार करोड़ रुपये देता है तो वह दो हजार करोड़ रुपये मुनाफा भी कमाएगा। चुनावी बॉण्ड से ना सिर्फ भ्रष्टाचार हुआ है, बल्कि इसने महंगाई बढ़ाने का भी काम किया।’’

यादव ने बिना नाम लिए बहुजन समाज पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि ‘एक दल है जिसका एक विधायक गलती से जीत गया है, लेकिन उन्होंने अंदर ही अंदर भाजपा से हाथ मिला लिया है। बहुजन समाज के लोगों से अपील है कि ये लोग (भाजपा) संविधान को बदलकर हक छीनना चाहते हैं, इसलिए चुनाव में वोट करते समय बाबा साहब भीमराव आंबेडकर के संविधान को बचाने का काम करना।’

बस्ती और डुमरियागंज में लोकसभा चुनाव के छठे चरण में आगामी 25 मई को मतदान होगा।

भाषा आनन्द सलीम

संतोष

संतोष

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers