भाजपा जाति जनगणना के खिलाफ नहीं, कांग्रेस समाज को बांटने के लिए कर रही मांग : नड्डा |

भाजपा जाति जनगणना के खिलाफ नहीं, कांग्रेस समाज को बांटने के लिए कर रही मांग : नड्डा

भाजपा जाति जनगणना के खिलाफ नहीं, कांग्रेस समाज को बांटने के लिए कर रही मांग : नड्डा

:   Modified Date:  April 12, 2024 / 09:45 PM IST, Published Date : April 12, 2024/9:45 pm IST

छिंदवाड़ा, 12 अप्रैल (भाषा) भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी. नड्डा ने शुक्रवार को मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा में कहा कि भाजपा जाति जनगणना के खिलाफ नहीं है लेकिन कांग्रेस समाज को बांटने की कवायद करने में जुटी है।

नड्डा ने जोर देकर कहा कि नरेन्द्र मोदी सरकार का ध्यान ‘ज्ञान’ या गरीब, युवा, अन्नदाता-किसान और नारी शक्ति (गरीब, युवा, किसान और महिलाएं) के सशक्तिकरण पर है, जिनकी प्रगति राष्ट्र के विकास के लिए महत्वपूर्ण है।

उन्होंने कहा, ”हम जाति जनगणना के खिलाफ नहीं हैं लेकिन कांग्रेस लोगों को बांटने की कवायद में जुटी है। देश में जिस तरह से राजनीति की जा रही थी प्रधानमंत्री मोदी ने उसे बदल दिया है, जिससे विपक्षी दल बौखला गए हैं। पहले यह जाति, धर्म, क्षेत्र आदि पर आधारित था। कांग्रेस ने भाई को भाई के खिलाफ खड़ा कर दिया।’’ भाजपा अध्यक्ष ने कहा, ‘मोदी के नेतृत्व में विकास की राजनीति केंद्र में आ गई है। लोग विकास से जुड़ना चाहते हैं। राजनीति अब वोट बैंक और तुष्टीकरण पर नहीं बल्कि आपके रिपोर्ट कार्ड और जिम्मेदारियों को निभाने की क्षमता पर आधारित है।’ उन्होंने कहा कि मोदी ने जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 को निरस्त करने, अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण और पूर्व सैनिकों के कल्याण के लिए ‘वन रैंक वन पेंशन’ (ओआरओपी) लागू करने जैसे साहसिक फैसले लिए हैं।

नड्डा ने कहा कि 2014 से पहले देश भ्रष्टाचार से त्रस्त था लेकिन अब ‘भारत दुनिया में एक गिड़गिड़ाने वाला राष्ट्र नहीं बल्कि एक अग्रणी राष्ट्र है’।

उन्होंने मोदी सरकार की सराहना करते हुए कहा, ‘भारत अब दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है, जो ब्रिटेन से भी बड़ी है। मोदी के तीसरे कार्यकाल में भारत की अर्थव्यवस्था 2027 तक तीसरे स्थान पर पहुंच जाएगी। इलेक्ट्रॉनिक्स निर्यात छह गुना बढ़ गया है, दवा निर्यात 138 प्रतिशत और पेट्रोकेमिकल निर्यात 108 प्रतिशत बढ़ गया है।’

नड्डा ने कहा, ”मध्य प्रदेश में चौदह मेडिकल कॉलेज स्थापित किये जा रहे हैं। राज्य सरकार की लाडली बहना योजना महिलाओं को सशक्त बना रही है। मोदी सरकार ने महिला आरक्षण बिल पास कर दिया। अगले चुनाव नए अधिनियम के प्रावधानों के तहत आयोजित किए जाएंगे।’

नड्डा ने दावा किया कि दूसरी ओर, कांग्रेस के नेतृत्व वाला ‘इंडिया’ गठबंधन भ्रष्टाचारियों और अपने परिवारों को बचाने के लिए एक साथ आया है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमलनाथ का गढ़ छिंदवाड़ा, 2019 के लोकसभा चुनावों में मध्य प्रदेश में विपक्षी पार्टी द्वारा जीती गई एकमात्र सीट है। प्रदेश की बाकी 28 सीटें भारतीय जनता पार्टी ने जीतीं।

नड्डा ने भारी मतदान की अपील करते हुए कहा कि यह स्पष्ट है कि लोग इस बार एक स्थानीय नेता को चुनना चाहते हैं। कांग्रेस ने यहां से सिर्फ एक परिवार को ही टिकट दिया।

नड्डा ने कहा कि कमल नाथ और उनके (मौजूदा सांसद) बेटे नकुल नाथ, राहुल और प्रियंका गांधी की तरह ही वंशवादी राजनीति का प्रतिनिधित्व करते हैं। सिर्फ भाजपा में ही गरीब परिवार का बेटा प्रधानमंत्री बनता है।

उन्होंने कहा कि यही बात मप्र के मुख्यमंत्री मोहन यादव और (वरिष्ठ नेता) कैलाश विजयवर्गीय पर भी लागू होती है।

छिंदवाड़ा सीट पर मौजूदा सांसद नकुल नाथ का मुकाबला भाजपा के विवेक बंटी साहू से है।

भाषा दिमो जितेंद्र

जितेंद्र

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers