गाजा से हमास ने दागे रॉकेट, तेल अवीव में बजे सायरन |

गाजा से हमास ने दागे रॉकेट, तेल अवीव में बजे सायरन

गाजा से हमास ने दागे रॉकेट, तेल अवीव में बजे सायरन

:   Modified Date:  May 26, 2024 / 08:25 PM IST, Published Date : May 26, 2024/8:25 pm IST

देर अल-बला (गाजा पट्टी), 26 मई (एपी) हमास ने पिछले कुछ महीनों में पहली बार रविवार को गाजा से रॉकेट दागे जिसके बाद इजराइल के तेल अवीव में हमले के सायरन बज उठे।

जनवरी के बाद गाजा से किए गए पहले लंबी दूरी के रॉकेट हमले में किसी के हताहत होने या क्षति की तत्काल कोई सूचना नहीं है। फलस्तीनी चरमपंथियों ने तब से गाजा सीमा के पास समुदायों को निशाना बनाकर छिटपुट तरीके से रॉकेट और मोर्टार दागना जारी रखा है।

हमले का दावा हमास की सैन्य शाखा ने किया। इजराइली सेना ने कहा कि दक्षिणी गाजा शहर रफह के क्षेत्र से दागे गए आठ रॉकेट इजराइल में गिरे। उसने कहा गया कि ‘कई’ रॉकेट को बीच में ही रोक दिया गया।

इससे पहले रविवार को राहत सहायता के साथ ट्रकों ने दक्षिणी इजराइल से गाजा में प्रवेश किया, लेकिन यह स्पष्ट नहीं है कि क्या मानवीय सहायता समूह इलाके में जारी लड़ाई के कारण सहायता पहुंचा सकेंगे।

मिस्र ने रफह क्रॉसिंग के अपनी ओर के हिस्से को फिर से खोलने से इनकार कर दिया है, जब तक कि गाजा की ओर के हिस्से का नियंत्रण फलस्तीनियों को वापस नहीं सौंप दिया जाता। यह अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन और मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतेह अल सीसी के बीच हुई बातचीत के बाद, इजराइल के केरेम शालोम क्रॉसिंग के जरिये आवागमन अस्थायी रूप से कराने के लिए सहमत हुआ है।

लेकिन इस मार्ग के जरिये आवागमन बहुत हद तक संभव नहीं है क्योंकि नजदीकी शहर रफह में इजराइली आक्रमण जारी है। इजराइल ने कहा है कि इसने सैकड़ों ट्रकों को प्रवेश करने की अनुमति दी है लेकिन संयुक्त राष्ट्र की एजेंसियों ने कहा है कि दूसरी ओर से सहायता हासिल करना बहुत खतरनाक है।

गाजा के स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, इजराइल और हमास के बीच युद्ध आठवें महीने में प्रवेश कर गया है जिसमें करीब 36,000 फलस्तीनी मारे गए हैं।

मिस्र के सरकारी अल काहिरा टीवी द्वारा प्रसारित फुटेज में देखा जा सकता है कि ट्रक केरेम शालोम के रास्ते गाजा में प्रवेश कर रहे हैं।

हमास ने सात अक्टूबर को इजराइल पर हमला करके युद्ध की शुरुआत की, जिसमें फलिस्तीनी चरमपंथियों ने लगभग 1,200 लोगों को मार डाला और लगभग 250 बंधकों को पकड़ लिया। हमास ने अभी भी करीब 100 बंधकों और करीब 30 अन्य के शव अपने पास रखे हैं, जबकि बाकी अधिकांश को पिछले साल संघर्ष विराम के दौरान रिहा कर दिया गया था।

हमास ने उत्तरी गाजा में लड़ाई के दौरान एक इजराइली सैनिक को पकड़ने का दावा किया और शनिवार देर रात एक वीडियो जारी किया जिसमें एक घायल व्यक्ति को सुरंग के माध्यम से घसीटते हुए दिखाया गया है। इजराइली सेना ने इस बात से इनकार किया कि उसके किसी भी सैनिक को पकड़ा गया है। हमास ने अपने दावे को साबित करने के लिए कोई अन्य सबूत नहीं दिया।

एक अलग घटनाक्रम में, इजराइली सेना ने कहा कि उसने प्रसारित वीडियो को लेकर एक संदिग्ध को हिरासत में लिया है जिसमें इज़राइली सैनिक के भेष में एक व्यक्ति विद्रोह की धमकी दे रहा है। वीडियो में, व्यक्ति को यह कहते सुना जा सकता है कि हजारों सैनिक रक्षा मंत्री योव गैलेंट के इस सुझाव की अवज्ञा करने के लिए तैयार हैं कि युद्ध के बाद फलस्तीनियों को गाजा पर शासन करना चाहिए और उन्होंने सिर्फ प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के प्रति निष्ठा का संकल्प लिया है।

यह स्पष्ट नहीं है कि क्या वह व्यक्ति ड्यूटी पर था या वीडियो कब और कहां बनाया गया था। प्रधानमंत्री के बेटे यायर नेतन्याहू ने सोशल मीडिया पर वीडियो साझा किया था, जिसकी राजनीतिक विरोधियों ने आलोचना की थी।

एपी अमित नरेश

नरेश

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers