आसियान शिखर सम्मेलन में म्यांमा के गैर-राजनीतिक प्रतिनिधि को किया जाएगा आमंत्रित

आसियान शिखर सम्मेलन में म्यांमा के गैर-राजनीतिक प्रतिनिधि को किया जाएगा आमंत्रित

Edited By: , October 16, 2021 / 06:31 PM IST

कुआलालंपुर, 16 अक्टूबर (एपी) दक्षिणपूर्वी एशियाई देशों के विदेश मंत्रियों ने एक फरवरी को म्यांमा में हुए सैन्य तख्तापलट के बाद उसके नेताओं को अब तक का सबसे तगड़ा झटका देते हुए, आगामी शिखर सम्मेलन में म्यांमा की भागीदारी को कमतर करने पर सहमति जताई है।

दक्षिण पूर्वी एशियाई राष्ट्रों के संगठन (आसियान) के अध्यक्ष ब्रूनेई ने शनिवार को कहा कि संगठन शिखर सम्मेलन में म्यांमा के सैन्य नेता वरिष्ठ जनरल मिन आंग हलियांग के बजाए किसी गैर राजनीतिक प्रतिनिधि को आमंत्रित करेगा।

समूह के सदस्य देश म्यांमा को हिंसा रोकने और पदच्युत असैन्य नेता आंग सान सू ची समेत कई राजनेताओं को छोड़ने के लिए मजबूर करने की खातिर अंतरराष्ट्रीय समुदाय द्वारा दस सदस्यीय आसियान पर अत्यंत दबाव बनाया गया। म्यांमा में हिंसा में अब तक 1,100 से अधिक आम नागरिक मारे जा चुके हैं।

जब म्यांमा ने संकट खत्म करने के लिए नियुक्त संगठन के दूत ब्रुनेई के द्वितीय विदेश मंत्री इरिवान यूसुफ के साथ सहयोग करने से इनकार कर दिया तो आसियान देशों के विदेश मंत्रियों ने शुक्रवार को एक आपात बैठक की। संकट के हालात से निबटने के लिए यूसुफ को अगस्त में नियुक्त किया गया था, लेकिन जब उन्हें बताया गया कि वह सू ची तथा अन्य नेताओं से नहीं मिल सकेंगे तो उन्होंने इस हफ्ते म्यांमा का अपना दौरा अचानक रद्द कर दिया था।

ब्रूनेई ने एक वक्तव्य में बताया कि म्यांमा ने कहा है कि सू ची और पदच्युत किए गए राष्ट्रपति विन मिंत जैसे लोग जिनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही चल रही है उनसे इरिवान मुलाकात नहीं कर सकेंगे। उन प्रतिष्ठानों में भी वह नहीं जा सकेंगे, जिन्हें गैरकानूनी घोषित किया गया है।

इस वक्तव्य में कहा गया कि आसियान के मंत्री म्यांमा संकट के क्षेत्रीय सुरक्षा पर प्रभाव को लेकर चिंतित हैं। इसमें कहा गया कि संगठन के दूत को सभी संबंधित पक्षों से मिलने दिया जाना चाहिए।

म्यांमा से किस गैर-राजनीतिक प्रतिनिधि को आमंत्रित किया जाएगा इस बारे में अधिकारियों ने कोई जानकारी नहीं दी।

एपी मानसी दिलीप

दिलीप