प्रधानमंत्री मोदी की लुम्बिनी यात्रा से नेपाल के पर्यटन क्षेत्र को बढ़ावा मिलेगा: पर्यटन उद्यमी

प्रधानमंत्री मोदी की लुम्बिनी यात्रा से नेपाल के पर्यटन क्षेत्र को बढ़ावा मिलेगा: पर्यटन उद्यमी

: , May 16, 2022 / 08:34 PM IST

(शिरीष बी प्रधान)

काठमांडू, 16 मई (भाषा) नेपाल के एक प्रमुख पर्यटन उद्यमी ने सोमवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की भगवान बुद्ध की जन्मस्थली लुम्बिनी की पहली यात्रा से देश के पर्यटन क्षेत्र को बढ़ावा मिलने की उम्मीद है।

लुम्बिनी, एक प्रमुख पर्यटन और तीर्थ स्थल है और कोरोना वायरस महामारी के बाद से यहां भी पर्यटन क्षेत्र प्रभावित हुआ है।

मोदी ने अपने नेपाली समकक्ष शेर बहादुर देउबा के निमंत्रण पर सोमवार को बुद्ध पूर्णिमा के मौके पर लुम्बिनी का एक दिवसीय दौरा किया।

लुम्बिनी की अपनी यात्रा के दौरान, प्रधानमंत्री मोदी और देउबा ने वहां तकनीकी रूप से उन्नत भारत अंतरराष्ट्रीय बौद्ध संस्कृति और विरासत केंद्र की आधारशिला रखी। इसका निर्माण कार्य पूरा हो जाने पर, केंद्र एक विश्व स्तरीय सुविधा होगा जो भारत की बढ़ती उदार शक्ति को पेश करते हुए बौद्ध धर्म के आध्यात्मिक पहलुओं के सार का आनंद लेने के लिए दुनिया भर के तीर्थयात्रियों और पर्यटकों का स्वागत करेगा।

एक पर्यटन उद्यमी और लुम्बिनी विकास ट्रस्ट के लिए पर्यटन के सद्भावना दूत बिक्रम पांडे ने कहा, ‘‘मोदी की लुम्बिनी यात्रा के जरिये नेपाल के पर्यटन क्षेत्र में एक सकारात्मक संदेश गया है, जो कोरोना वायरस महामारी के प्रभाव से जूझ रहा है।

पांडे ने कहा कि मोदी की इस यात्रा से नेपाल में तीर्थ पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की यात्रा ने दुनियाभर के सभी बौद्ध तीर्थयात्रियों को एक संदेश भेजा है कि वे बिहार के बोधगया और उत्तर प्रदेश के सारनाथ और कुशीनगर जाने से पहले लुम्बिनी जाएं, जहां बुद्ध का जन्म हुआ था।

उन्होंने कहा कि मई 2018 में मोदी के उत्तर-पश्चिम नेपाल में मुक्तिनाथ की यात्रा के बाद यह तीर्थस्थल भारतीय आगंतुकों के बीच आकर्षण का केंद्र बन गया है। उन्होंने कहा कि यदि नेपाल और भारत बुद्ध के जीवन से जुड़े महत्वपूर्ण स्थलों को शामिल करते हुए एक संयुक्त पर्यटन पैकेज लाने के लिए एक साथ मिलकर काम करते हैं तो इससे दोनों देश लाभान्वित हो सकते हैं।

उन्होंने कहा कि लुम्बिनी से 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित नवनिर्मित गौतम बुद्ध अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से नेपाल में धार्मिक पर्यटन को और बढ़ावा मिलेगा।

नेपाल के प्रधानमंत्री देउबा ने देश के दूसरे अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का सोमवार को उद्घाटन किया, जो भगवान बुद्ध की जन्मस्थली लुम्बिनी को दक्षिण एशिया के बौद्ध सर्किट और बाकी दुनिया से जोड़ने में मदद करेगा।

भाषा

देवेंद्र माधव

माधव

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)