शंघाई में कोविड के मामले घटने पर पाबंदियों में ढील दी गई |

शंघाई में कोविड के मामले घटने पर पाबंदियों में ढील दी गई

शंघाई में कोविड के मामले घटने पर पाबंदियों में ढील दी गई

: , June 30, 2022 / 04:35 PM IST

बीजिंग, 30 जून (एपी) चीन के सबसे बड़े शहर शंघाई में दो महीने के लॉकडाउन के बाद कोविड-19 का स्थानीय स्तर पर संक्रमण का कोई नया मामला सामने नहीं आने के बाद होटल-रेस्तरां में खानपान की अनुमति दी जा रही है तथा डिजनी रिजॉर्ट थीम पार्क को फिर से खोला जा रहा है।

चीन के अधिकारियों ने कोरोना वायरस के प्रसार एवं उसकी वजह से होने वाली मौतों पर अंकुश लगाने के लिए अपनी ‘कोई कोविड नहीं’ की कठोर नीति की सराहना की है । हालांकि इस नीति के कारण चीन की अर्थव्यवस्था को भारी कीमत चुकानी पड़ी और चीन की विनिर्माण एवं नौवहन क्षमता पर निर्भर अंतरराष्ट्रीय आपूर्ति श्रृंखला पर बुरा असर पड़ा।

चीन ने बार-बार इस नीति का बचाव किया है और ऐसे संकेत हैं कि वह कम से कम 2023 के वसंत ऋतु तक इसे जारी रखेगा। संभावना है कि तबतक राष्ट्रपति शी चिनिपंग की दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के प्रमुख (राष्ट्रपति) के तौर पर तीसरे कार्यकाल के लिए ताजपोशी हो जाएगी।

समाचार एंजेंसी शिन्हुआ के अनुसार बुधवार को शी ने कहा था कि वायरस के विरूद्ध चीन की नीति ने ‘‘ काफी हद तक लोगों की जान एवं स्वास्थ्य की रक्षा की है। ’’

शंघाई एवं अन्य शहरों में पाबंदियों में ढील के बावजूद ज्यादातर सार्वजनिक स्थानों पर आने-जाने के लिए मोबाइल फोन में कोविड की नेगेटिव जांच रिपोर्ट रखना अब भी आवश्यक है।

एपी राजकुमार सुभाष

सुभाष

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

#HarGharTiranga