नॉर्वे के सरकारी टीवी के दो पत्रकार कतर में गिरफ्तारी के बाद रिहा

नॉर्वे के सरकारी टीवी के दो पत्रकार कतर में गिरफ्तारी के बाद रिहा

Edited By: , November 24, 2021 / 04:59 PM IST

दुबई (संयुक्त अरब अमीरात), 24 नवंबर (एपी) कतर में सुरक्षा बलों ने नॉर्वे के सरकारी टेलीविजन के दो पत्रकारों को 30 घंटे से भी अधिक समय तक हिरासत में रखा और उनके द्वारा फीफा 2022 विश्व कप के मद्देनजर कामगारों के मुद्दे पर रिपोर्ट करने की कोशिश करते हुए एक प्रवासी मजदूर शिविर से ली फुटेज नष्ट कर दी। प्राधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी।

कतर सरकार ने बाद में पत्रकारों हैल्वर एकेलैंड और लोकमैन घोरबानी पर ‘‘निजी संपत्ति में घुसने और बिना अनुमति से फिल्मांकन’’ करने का आरोप लगाया। दोनों पत्रकार गिरफ्तारी के बाद बुधवार तड़के नॉर्वे लौट गए।

नॉर्वे के प्रधानमंत्री जोनास गान स्तोर ने गिरफ्तारी को ‘‘अस्वीकार्य’’ बताया। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘लोकतंत्र में स्वतंत्र प्रेस महत्वपूर्ण है। यह इस साल पत्रकारों को नोबेल शांति पुरस्कार दिए जाने की महत्ता को भी दिखाता है। मुझे बहुत खुशी है कि हैल्वर एकेलैंड और लोकमैन घोरबानी को अब रिहा कर दिया गया है।’’

विश्व कप के मद्देनजर कतर में रिपोर्टिंग करते हुए अन्य पत्रकारों को भी ऐसी ही दिक्कतों का सामना करना पड़ा है।

पत्रकारों ने बताया कि उन्हें उनके उपकरण के साथ जाने की अनुमति नहीं दी गयी। नॉर्वे पत्रकार संघ और देश के फुटबॉल संघ ने पत्रकारों की गिरफ्तार की आलोचना की।

वहीं, कतर सरकार ने एक वक्तव्य में कहा कि देश के औद्योगिक इलाके में एक अज्ञात निजी संपत्ति मालिक से शिकायत मिलने के बाद दोनों पत्रकारों को गिरफ्तार किया गया। यह इलाका मजदूर शिविरों का गढ़ है। उसने कहा कि एकेलैंड ने फिल्मांकन की अनुमति के लिए आवेदन किया था लेकिन प्राधिकारियों ने इसकी मंजूरी नहीं दी थी।

एपी गोला नरेश

नरेश