अमेरिका ने सैनिकों की वापसी के बाद अफगानिस्तान से चार नागरिकों को ‘तीसरे देश’ पहुंचाने की पुष्टि की

अमेरिका ने सैनिकों की वापसी के बाद अफगानिस्तान से चार नागरिकों को ‘तीसरे देश’ पहुंचाने की पुष्टि की

Edited By: , September 7, 2021 / 05:22 PM IST

(सज्जाद हुसैन)

इस्लमाबाद, सात सितंबर (भाषा) अमेरिकी विदेश मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी ने पुष्टि कि है कि उनके देश ने अपने चार नागरिकों को अफगानिस्तान से जमीन के रास्ते ‘तीसरे देश’ पहुंचाने में मदद की है। अमेरिका की अपने सैनिकों की युद्धग्रस्त देश से वापसी के बाद नागरिकों की निकासी का यह पहला प्रयास है।

अधिकारी ने सीएनएन से कहा, ‘‘ जब ये अमेरिकी नागरिक सीमा पार कर तीसरे देश में पहुंचे तब हमारे दूतावास से उनका अभिवादन किया।’’

यहां से प्रकाशित डॉन अखबार ने अपनी खबर में बताया कि अधिकारी ने उस देश की पहचान जाहिर नहीं की है जिसका इस्तेमाल अमेरिका ने अपने नागरिकों को निकालने में किया लेकिन जमीनी रास्ते के लिहाज से पाकिस्तान, अफगानिस्तान का सबसे करीबी देश है।

अधिकारी ने सोमवार को पुष्टि की कि अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिकों की वापसी के बाद ये पहले चार अमेरिकी हैं जिनकी मदद हमने इस तरह से निकालने में की।

अमेरिका में पाकिस्तान के राजदूत डॉ.असद मजीद खान ने डॉन को बताया, ‘‘हम नहीं जानते कि उन्होंने किस रास्ते का इस्तेमाल किया लेकिन हमें अमेरिकी नागरिकों को अफगानिस्तान से निकालने की सुविधा देने कोई समस्या नहीं है।’’

उन्होंने कहा,‘‘ पाकिस्तान, अफगानिस्तान छोड़ने के इच्छुक लोगों को निकालने में हर संभव मदद और सुविधा प्रदान कर रहा है।’’

राजदूत खान ने बताया कि अबतक नौ हजार से अधिक लोगों को पाकिस्तान के रास्ते अफगानिस्तान से निकाला गया है और इस्लामाबाद अब भी लोगों को निकालने के मुद्दे पर अंतरराष्ट्रीय समुदाय के संपर्क में है।

भाषा धीरज माधव

माधव