भारत में वीजा साक्षात्कार के प्रतीक्षा समय को कम करने के लिए हर संभव प्रयास जारी : अमेरिका |

भारत में वीजा साक्षात्कार के प्रतीक्षा समय को कम करने के लिए हर संभव प्रयास जारी : अमेरिका

भारत में वीजा साक्षात्कार के प्रतीक्षा समय को कम करने के लिए हर संभव प्रयास जारी : अमेरिका

: , January 18, 2023 / 12:20 PM IST

(ललित के. झा)

वाशिंगटन, 18 जनवरी (भाषा) अमेरिकी वीजा सेवाओं के लिए उप सहायक मंत्री जूली स्टफ्ट ने कहा कि भारत में वीजा साक्षात्कार नियोजन में लगने वाले समय को कम करने के लिए अमेरिका हर संभव प्रयास कर रहा है।

स्टफ्ट ने ‘पीटीआई-भाषा’ से एक साक्षात्कार में कहा कि इन प्रयासों में कांसुलर अधिकारियों को भारत भेजना और भारतीय वीजा आवेदकों के लिए जर्मनी एवं थाईलैंड में अपने अन्य विदेशी दूतावास खोलना शामिल है।

भारत उन देशों में से एक है, जहां कोविड महामारी से संबंधित यात्रा पाबंदियां हटाए जाने के बाद से अमेरिकी वीजा के लिए आवेदनों की संख्या तेजी से बढ़ी है।

भारत में वीजा आवेदन में बढ़ते प्रतीक्षा समय को लेकर चिंता बढ़ रही हैं, खासकर बी1 (व्यापार) और बी2 (पर्यटक) श्रेणी में जिसका प्रतीक्षा समय पिछले साल अक्टूबर में करीब तीन साल था।

स्टफ्ट ने कहा, ‘‘वीजा साक्षात्कार नियोजन में लगने वाले समय को कम करने के लिए हम हर संभव प्रयास कर रहे हैं।’’

स्टफ्ट ने कहा कि दुनिया भर में वीजा प्रक्रिया को सामान्य करना अभी हमारी प्राथमिकता है।

उन्होंने कहा, ‘‘हम भारत में अपने दूतावास और वाणिज्य दूतावासों में अपने कर्मचारियों की मदद के लिए कांसुलर अधिकारियों को भेज रहे हैं। वे पालियों में काम कर रहे हैं। वे सप्ताहांत में काम कर रहे हैं और इसमें वीजा साक्षात्कार को प्रमुखता दी जा रही है जिसमें अभी निश्चित रूप से काफी समय लग रहा है।’’

स्टफ्ट ने कहा, ‘‘हमारे पास कई अलग-अलग प्रकार के वीजा हैं जिनकी सेवाएं हमें भारत में देने की जरूरत है। इनमें से प्रमुख छात्रों, तकनीकी कर्मचारियों, प्रवासियों के लिए वीजा हैं जो अमेरिका में स्थायी रूप से बस रहे हैं और पोत के चालक दल के सदस्य भी इसमें शामिल हैं।’’

स्टफ्ट ने कहा कि इस साल इस दिशा में अमेरिका ने काफी प्रगति की है। कामकाजी वीजा, जैसे एच-1बी, एल1 वीजा के साक्षात्कार नियोजन में लगने वाला समय 18 महीने से घटकर लगभग 60 दिन हो गया है।

उन्होंने कहा कि पिछले साल सबसे ज्यादा अमेरिकी छात्र वीजा भारतीयों के लिए जारी करने का रिकॉर्ड बना और इस साल भी ऐसा हो सकता है। भारत अब अमेरिका आने वाले अंतरराष्ट्रीय छात्रों के मामले में दुनिया में दूसरे नंबर पर है।

स्टफ्ट ने कहा कि विदेश मंत्रालय वीजा प्रक्रिया को वैश्विक महामारी से पहले के स्तर पर पहुंचाने के प्रयास कर रहे हैं। विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन निजी तौर पर इस मामले को देख रहे हैं।

विदेश मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा, ‘‘दुनिया भर में विभिन्न श्रेणियों में वीजा की भारी मांग है। उस मांग को पूरा करना हमारा उत्तरदायित्व है। अब हम यही कर रहे हैं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ एक समय था जब साक्षात्कार नियोजन में 1,000 से अधिक दिन का प्रतीक्षा समय था, हालांकि अब एक को छोड़कर किसी भी वीजा श्रेणी में कोई प्रतीक्षा समय नहीं है।’’

स्टफ्ट ने कहा कि एक वीजा श्रेणी में प्रतीक्षा समय अब भी 400 दिन से अधिक है, लेकिन यह पहले से काफी कम है। हर दिन यह कम हो रहा है, फिर भी ‘‘ 400 दिन तो स्वीकार्य नहीं है।’’

भाषा निहारिका मनीषा

मनीषा

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)